लाक डाउन में कोई कंधा देने वाला नहीं मिला,पत्नी खुद अपने पति का शव लेकर श्मशान पहुंची


चंदौली। लॉकडाउन की वजह से एक व्यक्ति को मौत के बाद चार कंधे नसीब नहीं हो पाए। ना रिश्तेदार, ना पड़ोसी ना कोई दोस्त। किसी से मदद नहीं मिलने पर पत्नी खुद अपने पति का शव लेकर श्मशान पहुंच गई। जहां उसने पहले तो पति के शव के ऊपर अपनी मांग का सिंदूर धोया, चूड़ियां तोड़ी और लोगों से चंदा मांग कर खुद ही शव को मुखाग्नि दे दिया।


जानकारी के अनुसार, आलू मिल नईबस्ती निवासी गुड़िया की शादी बबुरी चौक बाजार निवासी संतोष जायसवाल से हुई थी। दोनों को एक बेटी है। कुछ दिन पहले संतोष की तबीयत खराब हो गई तो उसका जिला अस्पताल में इलाज चल रहा था। इसी बीच गुड़िया के भाई की भी किन्हीं कारणों से मौत हो गई। तो गुड़िया अपने पति के साथ अपने मायके गई। भाई के शव का अंतिम संस्कार किया और वापस घर लौट आई।


इस दौरान संतोष की तबीयत फिर से खराब हो गई। संतोष की स्थिति बिगड़ता देख गुड़िया संतोष को लेकर जिला अस्पताल पहुंची, जहां इलाज के दौरान संतोष ने दम तोड़ दिया। गुड़िया शव को लेकर मायके पहुंची लेकिन यहां किसी ने उसका साथ नहीं दिया। किस्मत की मारी गुड़िया किसी तरह वाहन से पति के शव को लेकर श्मशान पहुंची और कुछ लोगों की सहायता से लकड़ी इकट्ठा कर अपने पति को मुखाग्नि दिया। बता दें कि गरीबी में पति की भी मौत हो गई और अब तीन साल की मासूम बेटी रोशनी ही एकमात्र सहारा है।


Popular posts
बस्ती की नई डीएम प्रियंका निरंजन,2013 बैच की आईएएस अफसर है प्रियंका निरंजन।
Image
पापमोचिनी एकादशी व्रत रखना बहुत पुण्य कारक है आप भी रहे ब्रत
Image
बस्ती रियासत के पूर्व राजा एवं पूर्व विधायक राजा लक्ष्मेश्वर सिंह की पुण्य तिथि पर श्रद्धांजलि सभा का हुआ आयोजन, उनके चित्र पर पुष्प अर्पित पर हवन कर उन्हें श्रद्धांजलि दी
Image
सत्य को जानने का सर्वाधिक सरल मार्ग है सहज योग, जिसके माध्यम से जीवन सुखमय और आनंदमय हो जाता है :-डॉ ए के चौहान
Image
पूर्व विधायक राणा कृष्ण किंकर सिंह की मोटरसाइकिल को चोरी करके फूकने वाला गिरफ्तार,अभियुक्त के पास गाजा,असलहा भी बरामद
Image