सड़क एव कामकाजी व् सरकारी स्कूल में पढ़ने वाले बच्चो ने मिलकर मनाया इंटरनेशनल स्ट्रीट चिल्ड्रेन डे
ऐसा लगता है कि सड़क पर रहने और काम करने वाले बच्चो के लिए एक नए कार्य का शुभारम्भ हो चुका है । ये भारत के ऐसे गुमनाम बच्चे है जिनका भविष्य अंधकार में है । ये बच्चे अपनी आवाज बुलंद करने के काम में लगे हुए है ,बच्चो के इस हौसले को देखते हुए सामाजिक संस्था चेतना ने आज 12 अप्रैल को अन्तर्राष्ट्रीय सड़क…
Image
इतना मलाल क्यों है तुमको मेरी बेवफ़ाई पर -- कवि तारकेश्वर मिश्र जिज्ञासु
तुम्हारी झील सी आंखों में डूब जाने की हसरत है मेरी !  दुआ करो खुदा से तुम मेरी हसरत कामयाब हो जाए !! ************************* हसीनों की झील सी आंखों की बेवफाई देखी है मैंने !  जान बूझकर पहचानने से इंकार कर देती हैं अक्सर !!  ************************* तुम चाहो तो मोहब्बत का एक नया अध्याय लिख दूं …
Image
इनरव्हील क्लब बस्ती मिडटाउन द्वारा होली मिलन , त्रिदेव मंदिर परिसर मेंविविध प्रकार के गेम्स,अंताक्षरी व होली टाइटल का हुआ आयोजन
इनरव्हील क्लब बस्ती मिडटाउन द्वारा होली मिलन समारोह का आयोजन पुरानी बस्ती त्रिदेव मंदिर परिसर में किया गया। कार्यक्रम में महिलाओं के लिए विविध प्रकार के गेम्स, अंताक्षरी व होली टाइटल आदि का आयोजन किया गया इसके अतिरिक्त कजरी, चैता, फागुन पर विविध कविताओं एवं गीतों का कर्णप्रिय प्रस्तुतीकरण भी किया …
Image
अपनी कविताओं में आम आदमी का दर्द बयां कर दो तुम -- कवि तारकेश्वर मिश्र जिज्ञासु
कविता लिखना - पढ़ना हर किसी के वश में नहीं !  कविता लिखने - पढ़ने को ज़िंदा ज़मीर चाहिए !!  ************************* यूं कविता को मनोरंजन का विषय बनाना ठीक नहीं !  कविता जो समाज को आईना दिखाए उसे अच्छी समझो !!  ************************* यूं क्या पूछते हो मुझसे मेरी कविता का भविष्य तुम !  मेरी कव…
Image
दिल्ली ओलंपिक खेल में कुराश खेल का उद्घाटन* *कुराश खेल का दिल्ली ओलंपिक में उद्घाटन*
*दिल्ली ओलंपिक एसोसिएशन के तत्वाधान में आयोजित 2 से 7 अप्रैल तक चलने वाली खेलों में कुराश खेल 5 से 6 अप्रैल तक चलेगी जिसका उद्घाटन 5 अप्रैल को इंदिरा गांधी फिजिकल एजुकेशन कॉलेज में भारतीय कुरास महासंघ के संरक्षक दिल्ली सरकार के पूर्व मुख्य सचिव प्रवीण कुमार त्रिपाठी एवं भारतीय कुराश महासंघ के अध्यक…
Image
औरों को सुख पहुंचाने से बेहतर कोई काम नहीं -- कवि तारकेश्वर मिश्र जिज्ञासु
भाग्य विधाता बनकर तुमने रिश्ता मुझसे आबाद किया !  करूं शुक्रिया कैसे तुम्हारा कोई शब्द नहीं है पास मेरे !!  ************************* भाग्य विधाता बनकर देखो खुशहाल रहोगे तुम ! औरों को सुख पहुंचाने से बेहतर कोई काम नहीं !! ********************* भाग्य विधाता बनकर जीना खेल नहीं है बच्चों का !  भाग्य व…
Image