हॉट स्पॉट वाले इलाकों के लिए ICMR ने जारी की नई गाइडलाइन,किसकी और कैसे होगी जांच


नई दिल्ली: देश में कोरोनावायरस संक्रमण के (हॉट स्पॉट) सबसे प्रभावित इलाकों के लिए इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) नई गाइडलाइन जारी की है. नई गाइडलाइन में इन बातों का ब्योरा दिया गया है कि हॉट स्पॉट में किन-किन लोगों के टेस्ट होंगे और किस तरह से टेस्ट कराए जाएंगे. 
हॉट स्पॉट्स में किनका टेस्ट
हॉट स्पॉट में ऐसे सभी लोगों के कोविड टेस्ट किए जाएंगे जिन्हें सर्दी, खांसी या बुखार हो. ऐसे लोगों का पहले RT PCR टेस्ट किया जाएगा और सात दिन के बाद रैपिड एंटीबॉडी टेस्ट. अगर मरीज का कोरोना टेस्ट नेगेटिव आता है तो उसे 7 दिनों के लिए के लिए क्वारंटाइन किया जाएगा. इस बीच अगर फिर से कोविड 19 के लक्षण दिखे तो उसे अस्पताल में भर्ती कराया जाएगा.
अन्य किन लोगों के टेस्ट मुमकिन
- जिनमें कोरोना लक्षण हों और वह पिछले 14 दिनों में विदेश से आया हो.
- जिनका कोरोना टेस्ट पॉजिटिव आया हो और उसके संपर्क में आने वाले किसी व्यक्ति में कोरोना के लक्षण दिखाई दें ऐसे व्यक्ति का टेस्ट किया जाएगा. 
- ऐसे हेल्थकेर कर्मचारियों का कोरोना टेस्ट किया जाएगा जिनका जिनमें कोरोना ले लक्षण दिखाई दें. 
- SARI (Severe Acute Respiratory Illness) के सभी मरीजों का टेस्ट किया जाएगा. 


इन तमाम कवायद का मकसद यही है कि देश में कहीं भी संभावित रूप से भी कोई संक्रमित मरीज छूट ना जाए. आपको बता दें कि आईसीएमआर एक बार पहले भी गाइडलाइन जारी कर चुका है. अब नए सिरे से इनमें बदलाव करके दोबारा जारी किया गया है. इसी आधार पर अब देश भर में बड़े पैमाने पर जांच की जाएगी. 


Popular posts
गुरु अर्जन देव जी का 415 शहीदी वा गुरपूर्व बड़े ही श्रद्धा एम सादगी के साथ मनाया गया
Image
बस्ती:-सौम्याअग्रवाल आईएएस,बस्ती की नई जिलाधिकारी बनी, जानिए उनकी सफलता की कहानी
Image
उत्तर प्रदेश में COVID-19 के कारण अपने माता-पिता को खोने वाले बच्चों से जुड़ी सरकारी योजनाओं और सुविधाओं पर समझ बनाने हेतु राज्य स्तरीय परिचर्चा का हुआ आयोजन
Image
बस्ती में नाइट कर्फ्यू का आगाज,रात 9बजे से सुबह 6बजे तक रहेगा कर्फ्यू,आवश्यक सेवाओं को छोड़कर सभी व्यक्तियों के आने-जाने पर रोक,
Image
सर्व धर्म प्रार्थना सभा का हुआ आयोजन,कोरोना से मरे लोगों को किया याद
Image