दिल्ली में बिना क्रम के एक लाख जांच प्रस्तावित,तीस हजार के इलाज की व्यवस्था होगी:-केजरीवाल


नयी दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने राष्ट्रीय राजधानी में कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए पांच सूत्री कार्य योजना की घोषणा की और कहा कि शहर के अति प्रभावित क्षेत्रों में बिना किसी क्रम के, एक लाख लोगों को चुनकर उनकी जांच की जाएगी। वीडियो लिंक के माध्यम से संवाददाता सम्मेलन में केजरीवाल ने कहा कि यदि शहर में कोरोना वायरस के मामले लगातार बढ़ते रहे और अस्पतालों में इलाज कराने वाले संक्रमितों की संख्या 30000 तक हो गई तो दिल्ली सरकार चरणबद्ध तरीके से निजी अस्पतालों एवं होटलों के 12000 कमरे अपने अधीन ले लेगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार ने तीन निजी अस्पतालों- मैक्स साकेत (318), अपोलो (50) और गंगाराम अस्पताल (42) में 400 बिस्तर अलग तय किये हैं। 


उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार के लोक नायक जय प्रकाश नारायण अस्पताल (1500), जी बी पंत अस्पताल (500) और राजीव गांधी सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल (450) को विशेष कोविड-19 अस्पताल घोषित किया गया है। केजरीवाल ने कहा, ‘‘फिलहाल, इस समय 2,950 बेड कोविड-19 रोगियों के लिए आरक्षित हैं। यदि कोरोना वायरस के संक्रमण के मामले 3000 को पार कर गये तो हम जीटीबी अस्पताल में 1500 बिस्तरों का उपयोग करेंगे और इसके बाद हमारे पास 4500 मामलों के लिए व्यवस्था होगी।’’ उन्होंने कहा कि अब तक दिल्ली में कोरोना वायरस के 523 मामले हैं। योजना के अनुसार, सरकार कोविड-19 के ऐसे 10,000 मरीजों के लिए बारातघरों एवं धर्मशालाओं में प्रबंध करेगी जिन्हें यकृत, हृदय संबंधी रोग नहीं हैं और वे 50 साल से कम उम्र के हैं। मुख्यमंत्री ने पांच सूत्री कार्य योजना की विस्तार से जानकारी देते हुए कहा, ‘‘इसमें पांच टी शामिल हैं। यह पांच टी टेस्टिंग (जांच), ट्रेसिंग (पता लगाना), ट्रीटमेंट (उपचार), टीम-वर्क (मिलकर काम करना) और ट्रैकिंग (नजर रखना) हैं।’’ पहले टी के तहत सरकार अति प्रभावित क्षेत्रों में एक लाख जांच कराएगी। 
 
मुख्यमंत्री ने कहा,‘‘ बिना बड़े पैमाने पर परीक्षण के वायरस तेजी से फैल सकता है। दक्षिण कोरिया ने बड़े पैमाने पर परीक्षण के माध्यम से प्रभावित लोगों की पहचान की। हम बड़े पैमाने पर परीक्षण शुरू करने जा रहे हैं।’’ उन्होंने कहा, ‘‘ 50,000 किटों की खरीद का ऑर्डर दिया गया है और अब आपूर्ति होने भी लगी है। जब जांच किट आने लगेंगे तब हम शुक्रवार से एक लाख लोगों का तीव्र परीक्षण शुरू करेंगे।’’ सरकार के अनुसार, भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद के सुझाव के आधार पर अति प्रभावित क्षेत्रों में तीव्र एंटीबॉडी रक्त परीक्षण किये जाएंगे। इन परीक्षण के परिणाम अन्य रक्त परीक्षणों की भांति 15-30 मिनट में मिल जाते हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि तीव्र परीक्षण निजामुद्दीन और दिलशाद गार्डन जैसे अतिप्रभावित क्षेत्रों में किये जाएंगे। निजामुद्दीन मरकज देश में अतिप्रभावित क्षेत्र के रूप में उभरा है। केजरीवाल ने कहा, ‘‘हम तबलीगी जमात के कार्यक्रम में शामिल होने वाले लोगों के फोन नंबर पुलिस को देंगे ताकि उनका पता लगाया जा सके कि उन्होंने आसपास के इलाकों में आवाजाही की थी या नहीं।’’ 
 
उन्होंने कहा कि सरकार उन लोगों का प्रभावी तरीके से पता लगायेगी जो कोविड-19 संक्रमित व्यक्तियों के संपर्क में आये हैं और ऐसे 27,702 लोगों के फोन नंबर पुलिस को उनकी आवाजाही पर नजर रखने के लिए दिये गये हैं जिन्हें पृथक वास का निर्देश दिया गया था। उन्होंने कहा कि जिन क्षेत्रों में प्रभावित लोग मिले हैं , उन क्षेत्रों को सील किया जा रहा है। केजरीवाल ने कहा, ‘‘कोरोना वायरस के गंभीर मरीजों, जिन्हें अन्य बीमारियां हैं और जो 50 साल से अधिक उम्र के हैं, को अस्पतालों में रखा जाएगा। जो कम बीमार हैं और 50 साल से कम उम्र के हैं, उन्हें धर्मशाला एवं बारातघरों में रखा जाएगा। ’’ वैसे सरकार ने उन होटलों का ब्योरा नहीं दिया है जहां वह 12,000 मरीजों को ले जाएगी। वेंटीलेटरों एवं अन्य उपकरणों की भी योजना तैयार की गयी है। मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘पीपीई किटों की कमी थी लेकिन केंद्र ने 27000 किट आवंटित किये हैं जो अगले एक दो दिनों में उपलब्ध हो जाएंगे। हमने भी इन किटों का आर्डर दिया है जो अगले सप्ताह से आने लगेंगे।’’ उन्होंने कहा, ‘‘सभी राज्य सरकारें कोविड-19 से निपटने के लिए राजनीति से ऊपर उठकर, मिलकर काम कर रही हैं। लोग भी इस टीम का मुख्य हिस्सा हैं और उन्हें अपने घरों में रहना चाहिए एवं लॉकडाउन का पालन करना चाहिए।"


Popular posts
नई पीढ़ी* ने जड़ी-बूटी दिवस के रुप में मनाया आचार्य बालकृष्ण का जन्मदिन *नई पीढ़ी" के प्रेरणा श्रोत हैं आचार्य बालकृष्ण - शिवेन्द्र प्रकाश द्विवेदी
Image
हिंदू युवा वाहिनी के पूर्व जिलाध्यक्ष अज्जू हिंदुस्तानी की प्रथम पुण्य तिथि पर शांति पाठ,श्रद्धांजलि सभा, सहभोज का हुआ आयोजन
Image
प्राकृतिक तरीको से घटाए यूरिक एसिड का लेवल डा . वी . के.वर्मा
Image
बस्ती:-सौम्याअग्रवाल आईएएस,बस्ती की नई जिलाधिकारी बनी, जानिए उनकी सफलता की कहानी
Image
284 करोड़ रुपये की ठगी करने वाला अन्तर्राज्यीय गिरोह का डायरेक्टर गिरफ्तार
Image