एशिया बुक ऑफ रिकॉर्ड में दर्ज हुए आर्यांश को डीएम ने किया सम्मानित

 


बस्ती। जिलाधिकारी सौम्या अग्रवाल ने शहर के पुरानी बस्ती निवासी अर्यांश अरोरा को प्रसस्ति पत्र देकर सम्मानित किया और उनके उज्जवल भविष्य की कामना की। अर्यांश ने अपने नए रैप सांग ‘लाइफ' में 20 भाषाओं का प्रयोग किया। अपने इस प्रयोग के चलते अर्यांश ने एशिया बुक ऑफ रिकार्ड में अपनी जगह बनाया है। इस अकेले गाने में 20 भाषाओं का प्रयोग किया गया है, जिसमें हिंदी, इंग्लिश, पंजाबी , उर्दू, मराठी, हरयाणवी, तमिल, गुजराती, नेपाली , बांग्ला, इतालियन, रोमानियन, फ्रेंच, जर्मन, पुर्तगाली, स्पेनिश, लैटिन, डच, स्वीडिश औऱ इन्डोनेशियाई सम्मिलित है। 

             उन्होंने बताया की ये गाना उन्होंने लखनऊ में बनवाया। जहां पर उनकी सहायता रोहन शुक्ला ने की। गाना लिखा और गाया आर्यान्श ने है और संगीत रोहन शुक्ला ने दिया है। इस गाने को रिकॉर्ड करने से लेकर उसके आने में और लॉन्च हो कर एशिया बुक ऑफ रिकॉर्ड आने में 14 महीने लगे। ये गाना जिओ सावन और इसके जैसे और कई ऐप्प पर उपलब्ध है।

            बतातें चलें कि आर्यांश 14 साल की उम्र से लिखते आ रहे है और 2019 में उन्हें अपनी कविताओं को किताबों मे छपवाने का मौका मिला। लोकप्रियता के चलते कुछ ही समय में अनकी कविताओं को कई किताबों में प्रकाशित किया गया, जैसे वॉयज, सर्विवल, सिंदूर आदि और 2020 में उन्होने अपने नाम पे 3 किताबे छपवाई। जिनका कमश: किस की सुने , ही एंड शी एवम् ट्रुथ। 

           इसके पूर्व आर्यांश को कई बड़े पुरुस्कारों से सम्मानित किया जा चुका है। जैसे ऑफिशल बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड, एशिया बुक ऑफ रिकॉर्ड , यंग अचीवर्स अवार्ड आदि। वो कविताओं के अलावा गाने में भी रुचि रखते है और उनके गाने यू ट्यूब पे आते रहते है जो लोकप्रिय होते जा रहे है।

आर्यांश ने अपनी सफलता श्रेय पिता अतुल अरोरा, मातानीतू अरोरा, बहन तितिक्षा, अपने मित्र ओम, शिवेन , रूबल चौधरी, हेमंत बंसल को दिया है, जिन्होंने इस सफर में उनका साथ दिया और हौसला बुलंद रखा।

इस अवसर पर एडीएम अभय मिश्रा, सीआरओ अनीता यादव, ई-डिस्ट्रिक मैनेजर सौरभ द्विवेदी, सभासद पांडेय बाजार तारक जयसवाल, अतुल अरोरा, नीतू अरोरा, दीपाली ढिंगरा सहित तमाम लोग उपस्थित रहे।

Popular posts
संजय द्विवेदी पीएचडी पात्र हेतु घोषित,राजेन्द्र माथुर का हिंदी पत्रकारिता में योगदान पर किया शोध
Image
बंधन में बँधना मेरी क़ैफ़ियत को गवारा नहीं कभी – कवि तारकेश्वर मिश्र जिज्ञासु
Image
बस्ती रियासत के पूर्व राजा एवं पूर्व विधायक राजा लक्ष्मेश्वर सिंह की पुण्य तिथि पर श्रद्धांजलि सभा का हुआ आयोजन, उनके चित्र पर पुष्प अर्पित पर हवन कर उन्हें श्रद्धांजलि दी
Image
वाजा इंडिया" की नई कार्यकारिणी घोषित,वरिष्ठ पत्रकार पी. बी. वर्मा अध्यक्ष,शिवेन्द्र प्रकाश द्विवेदी महासचिव बने
Image
सहजयोग नेशनल ट्रस्ट, नई दिल्ली द्वारा पूरे भारत में कुण्डलिनी जागरण के माध्यम से आनलाइन ‘‘लाइव आत्मसाक्षात्कार, का आयोजन
Image