नए साल का जश्न दुनिया मनाने को तैयार है लेकिन – कवि तारकेश्वर मिश्र जिज्ञासु
ऐ नए साल तुझसे एक बड़ी गुज़ारिश है मेरी !कोरोना महामारी का दुनिया से अंत कर देना !!******************साल दो हजार बाइस सुन लो बड़ी उम्मीदें है तुमसे !वादा करो मेरी उम्मीदों पर सौ प्रतिशत खरे उतरोगे !!******************नए साल का जश्न दुनिया मनाने को तैयार है लेकिन !सेहत का मामला है ओमीक्रोन से हर इंसान को बचना है !!******************चाहते हो नए साल में तुम्हारी खुशियों का अंत ना हो !मेरी मानो प्रकृति का श्रृंगार करना सीख लो तुम !!******************दिल से कहूँ तो दो हजार इक्कीस ने बहुत कुछ दिया मुझको !हाँ मगर दो हजार बाइस से उम्मीदें कुछ अनूठी हैं !!******************जाते जाते गुज़रे साल के कुछ पन्ने पलट लेना जिज्ञासु !क्या पता पुराना साल नए साल को जीने का तरीक़ा दे !!******************हर इंसान की कुछ ख्वाहिशें अधूरी रह गई गुज़रे साल में !दो हजार बाइस इसे पूरा करेगा भरोसा है हम सबको !!*************तारकेश्वर मिश्र जिज्ञासु कवि व मंच संचालक अंबेडकरनगर उत्तर प्रदेश ! सम्पर्क सूत्र – 9450489518
Popular posts
खलीलाबाद से बहराइच तक रेल लाइन बिछेगी, डीपीआर रेलवे बोर्ड को प्रेषित
Image
दिल्ली:- 12 साल के लड़के ने 18 साल की लड़की को किया गर्भवती, अस्पताल में बच्चे को जन्म देकर लड़की ने किया खुलासा
Image
नेहरू युवा केंद्र द्वारा ब्लॉक स्तरीय खेल प्रतियोगिता का हुआ आयोजन
Image
बस्ती रियासत के पूर्व राजा एवं पूर्व विधायक राजा लक्ष्मेश्वर सिंह की पुण्य तिथि पर श्रद्धांजलि सभा का हुआ आयोजन, उनके चित्र पर पुष्प अर्पित पर हवन कर उन्हें श्रद्धांजलि दी
Image
करनपुर गांव में अपर मुख्य सचिव अमित मोहन, मुख्य विकास अधिकारी सरनीत कौर ब्रोका, हर्र्रैया के उप जिलाधिकारी प्रेम प्रकाश मीणा आदि ने पौधरोपण किया
Image