एक शर्त है बहाने बनाना अभी से छोड़ दो तुम : : कवि तारकेश्वर मिश्र जिज्ञासु

 


बहाने बनाकर कब तक बचते फिरोगे मुझसे !

मेरा दिल और दिमाग़ सच्चाई जान लेता है !!

************************* सच का सामना करना अभी से सीखो !

बहाने बनाना मुसीबतों का आमंत्रण है !!

*************************

हर बार बाप अपना माथा पीट लेता है !

बेटा है कि बहाना छोड़ने को तैयार नहीं !!

*************************

बहाने बनाकर ज़िंदगी में क्या हासिल होगा !

काम का परिणाम काम करने से ही मिलता है !!

*************************

बचपन से ही बहाने बनाने की आदत रही है उसकी !

भला जवानी में घर की ज़िम्मेदारियां पूरी करे कैसे !!

*************************

बाप होकर भी बच्चे की तरह बहाने बनाते हो !

जरा सोचो तुम्हारे बच्चों का भविष्य क्या होगा !!

*************************

ज़िंदगी में हर काम तुम्हारा आसान हो जाएगा !

एक शर्त है बहाने बनाना अभी से छोड़ दो तुम !!

***********तारकेश्वर मिश्र जिज्ञासु कवि व मंच संचालक अंबेडकर नगर उत्तर प्रदेश !

Popular posts
राजा लक्ष्मेश्वर सिंह की 67 वी जयंती पर राजभवन बस्ती में हुए विभिन्न कार्यक्रमो ने लोगो का मन मोहा, हुआ पुस्तक विमोचन
Image
खलीलाबाद से बहराइच तक रेल लाइन बिछेगी, डीपीआर रेलवे बोर्ड को प्रेषित
Image
परशुरामाचार्य पीठाधीश्वर स्वामी श्री सुदर्शन महाराज द्वारा सम्मानित हुए —कवि डॉ० तारकेश्वर मिश्र जिज्ञासु
Image
बस्ती के नए पुलिस अधीक्षक बने गोपाल कृष्ण चौधरी, 2016बैच के है आईपीएस अधिकारी,
Image
बस्ती की नई डीएम प्रियंका निरंजन,2013 बैच की आईएएस अफसर है प्रियंका निरंजन।
Image