नेशनल एंटी चाइल्ड लेबर डे” पर बच्चों ने स्वयं बच्चो के लिए उठायी आवाज


सामाजिक संस्था चेतना और एचसीएल फाउंडेशन के सहयोग से लखनऊ के सरकारी स्कूल में पढ़ने वाले बच्चो की क्षमता वृद्धि और लीडर शिप के लिए काम करती है चूंकि अभी कोरोना की वजह से सभी स्कूल बंद है इसलिए आज डिजिटल प्लेटफार्म के माध्यम से आज “नेशनल एंटी चाइल्ड लेबर डे” मनाया गया । इस अवसर पर इस दिन को मानाने का उद्देश सभी बच्चो और लोगो को जागरूक करना था, ताकि सभी जिम्मेदार लोग बालश्रम में फसे बच्चो को मुक्त कराने का बीड़ा उठा सके क्योकि यह एक सामाजिक समस्या है, समाज में रहने वाले प्रत्येक व्यक्ति की यह जिम्मेदारी है कि वह ऐसे सामाजिक समस्याओ को रोकने में मदद करे ताकि ऐसे बच्चो का भविष्य संवर सके | इस जागरूकता को और व्यापकता से लोगो तक पहुँचाने के लिए बच्चो ने अच्छे अच्छे निबंध ,स्लोगन ,कविताये लिखी, कुछ बच्चो ने तो अपनी ड्राइंग से बहुत सुंदर सुंदर मेसेज भी दिए | इस अवसर पर बच्चो से बात चीत के दौरान जी. जी. आई. सी.विकास नगर लखनऊ में पढ़ने वाली संगीता ने बताया कि वह भी पहले चाइल्ड लेबर थी फिर चेतना के भैया दीदी ने कैसे उसे और उसके घर घर वालो से बात चीत करके जागरूक कर धीरे धीरे उसे इस समस्या से निकाल कर कक्षा 6 में एडमिशन कराया था अब वह कक्षा 8 में पढ़ती है वही जी.जी .आई. सी. इंदिरा नगर में कक्षा 7 पढ़ने वाली आकर्षी ने बताया कि एक बच्चा एक शिक्षक और एक किताब एक कलम पूरी दुनिया बदल सकते है इस लिए बच्चे से मजदूरी न कराए ।

इस पर बच्चों ने कविता भी लिखी ...

                  बाल मजदूरी है मानवता पर कलंक,

                   इसे रोक कर बनाओ समाज को अकलंक ।

             बाल मजदूरी भी एक पाप है ,

              जिसके जिम्मेदार आप है ।

                        बाल मजदूरी एक कुप्रथा है,

                        जिससे होती इस देश की दुर्दशा है।

साथ ही साथ सीमा और अंशिका ने भी इस टॉपिक पर अच्छे अच्छे निबंध लिखे व ड्राइंग बनाई । वही जी जी आई से विकास नगर में पढ़ने वाली कहकशा ,प्रीति ,संध्या सलोनी ,शिवानी इन सभी बच्चों ने बहुत सुंदर ड्राइंग से बच्चों को मैसेज दिए ।



इस अवसर पर चेतना संस्था के एडवोकेसी कोऑर्डिनेटर राजेंद्र कुमार ने बताया कि हम लोग आज देश की आज़ादी के आठवे दशक में रह रहे है जिसमे सभी व्यक्ति और हमारा देश आधुनिकतम आधुनिक हुआ है लेकिन इस अनुपात में अगर देखा जाये तो बाल श्रम में फसे बच्चें आज भी इस आधुनिक समाज की बड़ी समस्या है इसके लिए पर्याप्त कानून है लेकिन लोग जागरूक नहीं है इस लिए आज इस दिन के अवसर पर बच्चो और हम सब के बीच में यह जागरूकता कार्यक्रम चलाया गया |

अधिक जानकारी के लिए संपर्क करें राजेंद्र कुमार : (9012640281)

Popular posts
खलीलाबाद से बहराइच तक रेल लाइन बिछेगी, डीपीआर रेलवे बोर्ड को प्रेषित
Image
गजलों की महफ़िल की 28 वी कड़ी में लुधियाना के प्रख्यात शायर सरदार हरदीप सिंह विरदी ने हिंदी उर्दू की बेहतरीन गजलों से महफ़िल में चार चांद लगाया,जमकर लोगो ने की हौसला अफजाई
Image
बस्ती:-सौम्याअग्रवाल आईएएस,बस्ती की नई जिलाधिकारी बनी, जानिए उनकी सफलता की कहानी
Image
बस्ती की नई डीएम प्रियंका निरंजन,2013 बैच की आईएएस अफसर है प्रियंका निरंजन।
Image
बस्ती मंडल के नए डीआईजी श्री आर के भारद्वाज,अलीगढ़ के मूल निवासी है श्री भारद्वाज
Image