रिश्तों की डोर का सच कोरोना पीड़ित से पूछो -- कवि तारकेश्वर मिश्र जिज्ञासु

 रिश्तों की डोर का मतलब कौन समझाए किसको ! 

कोरोना की आफ़त में सवालिया निशान हैं इस पर !! 

*************************

यूं तो रिश्तों की डोर का ज़िक्र बड़े शौक से करता था ! 

कोरोना के परिदृश्य ने रिश्तों की परिभाषाएं बदल डाली !! 

*************************

रिश्तों की डोर ज़िंदगी की अमूल्य धरोहर हुआ करती थी ! 

कोरोना वायरस ने इस धरोहर को कलंकित कर दिया !! 

*************************

महापुरुषों की वाणी सच दिख रही है इन दिनों ! 

रिश्ते नातों पर बड़ा गुमान था तुमको अब तक !! 

*************************

कोरोना का ख़ौफ़ तुम्हारे मन मस्तिष्क से कब जाएगा ! 

ज़िंदगी जीने के लिए ख़ौफ़ से दूर होना पड़ेगा तुमको !! 

*************************

रिश्तों की डोर पर बड़ी - बड़ी कविताएं पढ़ी होंगी तुमने ! 

कोरोना महामारी ने भी बहुत कुछ बताया दुनिया को !! 

*************************

रिश्तों की डोर का एहतराम तो हम करते रहेंगे मगर ! 

स्वार्थी दुनिया में कोरोना के मंज़र से पीड़ित हैं लोग !! 

*************************

आओ तुम्हें हम नई दुनिया का क़िस्सा बताएं ! 

रिश्तों की डोर का सच कोरोना पीड़ित से पूछो !! 

*************************

भला मैं तुमसे कैसे कहूं कि यह दुनिया अच्छी है ! 

कोरोना वायरस के साथ दुनिया बहुत ख़राब है !! 

*************************

हम तुम्हें महफ़िल का भी लुत्फ़ लेना सिखा देंगे ! 

मगर कोई तरकीब निकालो कोरोना से मुक्ति का !! 

******************तारकेश्वर मिश्र जिज्ञासु कवि व मंच संचालक अंबेडकर नगर उत्तर प्रदेश !

Popular posts
सेंट एंथोनी कॉन्वेंट स्कूल डेयरी कॉलोनी गोरखपुर में महात्मा गांधी एवं लाल बहादुर शास्त्री जी के जन्मदिन पर गीत संगीत और नृत्य का हुआ आयोजन
Image
बस्ती:-सौम्याअग्रवाल आईएएस,बस्ती की नई जिलाधिकारी बनी, जानिए उनकी सफलता की कहानी
Image
बस्ती के नए सीडीओ राजेश कुमार प्रजापति,
Image
ईमानदारी का मिसाल बना ऑटो चालक यूसुफ ने अपनी सवारी का रुपये से भरा पर्स पाने पर पुलिस को लौटाया
Image
प्रतिकार फिल्म चौरी चौरा 1922 में सांसद रवि किशन की दमदार भूमिका,, सीन देख कर दर्शकों की विभिन्न प्रतिक्रिया
Image