समाजसेवी राना दिनेश प्रताप सिंह ने अज्जू हिंदुस्तानी के परिजनों को एक करोड़ रुपये की आर्थिक सहायता एवं सरकारी नौकरी की मांग की


बस्ती।समाजसेवी राना दिनेश प्रताप सिंह ने अज्जू हिंदुस्तानी के परिजनों को एक करोड़ रुपये की आर्थिक सहायता और पत्नी को सम्मानजनक नौकरी दिए जाने की मांग मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से किया है। उन्होंने घोषणा किया है कि यदि मांगे नही मानी गयी तो 07 अगस्त से वह भूख हड़ताल करेंगे। श्री राना ने अपने इस निर्णय से जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक को भी मेल कर अवगत करा दिया है। श्री राना ने कहा है कि विपरीत विचारधारा के बावजूद यह आंदोलन एक सामाजिक कार्यकर्ता के लिए होगा।


उन्होंने सीएम योगी को ईमेल से भेजे अपने पत्र में अवगत कराया है कि अज्जू हिंदुस्तानी की मौत कोरोना संक्रमण से लोगों की मदद और जन- जागरूकता अभियान में लगातार अपने सामाजिक दायित्वों का निर्वहन करते हुए हुई है। कोरोना संक्रमित उनके सगी बहन की भी उसी दिन बस्ती से रिफर होकर लखनऊ जाते समय रास्ते में मृत्यु हो गयी थी। कोरोना की शुरुवाती दिनों से अंतिम सांस तक अज्जू आम जन की भलाई के लिए संघर्ष करते रहे। एक ही दिन भाई-बहन की कोरोना से मौत संभवतः किसी सामाजिक परिवार में यह प्रदेश की दिल दहला देने वाली पहली घटना है। दो दशकों से सार्वजनिक जीवन मे खुद को झोंक चुके अज्जू के 70 वर्षीय बूढ़े माता, पिता, विधवा औरत और 06 वर्षीय मासूम बालक के अलावा कोई सगा सम्बन्धी नही है जो घर की आवश्यक आवश्यकताओं की भी पूर्ति कर सके। उन्होंने अपने पत्र में लिखा है कि अज्जू का न तो कोई व्यापार नेताओ और बुद्धिजीवियों से भी अपील किया है कि सरकार से इस मांग को मानवाने मे अपनी ऊर्जा लगाएं जिससे एक समाजसेवी का परिणाम सड़क पर आने से बच सके।


Popular posts
राजा लक्ष्मेश्वर सिंह की 67 वी जयंती पर राजभवन बस्ती में हुए विभिन्न कार्यक्रमो ने लोगो का मन मोहा, हुआ पुस्तक विमोचन
Image
बस्ती के नए पुलिस अधीक्षक बने गोपाल कृष्ण चौधरी, 2016बैच के है आईपीएस अधिकारी,
Image
परशुरामाचार्य पीठाधीश्वर स्वामी श्री सुदर्शन महाराज द्वारा सम्मानित हुए —कवि डॉ० तारकेश्वर मिश्र जिज्ञासु
Image
बस्ती:-सौम्याअग्रवाल आईएएस,बस्ती की नई जिलाधिकारी बनी, जानिए उनकी सफलता की कहानी
Image
संसार के चिरंजीवी महापुरुषों में एक नाम परशुराम –कवि तारकेश्वर मिश्र जिज्ञासु
Image