विकास दूबे की लखीमपुर-खीरी की कोर्ट में सरेंडर करने की भी रही चर्चा नेपाल भागने के संदेह में लखीमपुर से सटी नेपाल सीमा सील,सीओ के नेतृत्व में पुलिसबल तैनात

 


लखीमपुर-खीरीकानपुर में आठ पुलिसकर्मियों की हत्या करने वाला विकास दूबे घटना के करीब 40 घंटे बाद भी फरार है। इस बीच उसकी तलाश को लेकर प्रदेश के कई जिलों में लगातार छापेमारी की जा रही है। इस बीच उसके लखीमपुर-खीरी की कोर्ट में सरेंडर करने की खबरों से पुलिस महकमा सतर्क हो गया है।


शनिवार दोपहर अचानक खुफिया अलर्ट आया कि विकास दुबे लखीमपुर-खीरी के मोहम्मदी स्थित एडीजे कोर्ट में सरेंडर कर सकता है। जानकारी मिलते ही पुलिस ने कोर्ट परिसर को खाली करवा लिया और पूरे परिसर में पुलिस की तैनाती कर दी गई है। कुछ ही देर में पुलिस अधीक्षक पूनम भी मोहम्मदी पहुंच गईं और स्थिति का जायजा लिया।


लखीमपुर में सरेंडर कर जेल जाना चाहता है विकास दुबे


विश्वस्त सूत्रों ने बताया कि विकास दुबे लखीमपुर में किसी छोटे-मोटे मामले में सरेंडर कर जेल जाने की फिराक में है। उसे डर है कि वह भर ऐसे ही भागता रहा तो पुलिस उसे एनकाउंटर में मार सकती है। दूसरी तरफ पुलिस की कोशिश उसे रिमांड में लेकर पूछताछ करने की है। इसलिए पुलिस की पूरी कोशिश रहेगी कि वह सरेंडर न करने पाए।


विकास की तलाश में छापेमारी कर रहीं पुलिस की 100 टीमें


विकास दुबे की तलाश में यूपी पुलिस की करीब 100 टीमें अलग-अलग जिलों में दबिश दे रही हैं। जहां विकास के परिवारवाले या दूर के भी रिश्तेदार रहते हैं, उनकी जानकारी निकाली जा रही है और छापेमारी की जा रही है।


नेपाल भागने की आशंका, बॉर्डर पर भारी पुलिस बल


विकास दुबे के नेपाल भागने की भी आशंका है। इसको लेकर लखीमपुर-खीरी से लगी नेपाल सीमा पर भी अलर्ट जारी कर दिया गया है। नेपाल बॉर्डर के आसपास के थानों और पुलिस चौकियों में विकास दुबे की फोटो पहुंचा दी गई है। उसके नेपाल भागने की आशंका के चलते शुक्रवार को ही जिले की सभी सीमाएं सील करने के साथ ही जिले से लगी 125 किमी लंबी भारत-नेपाल सीमा पर सतर्कता बढ़ा दी गई थी। नेपाल बॉर्डर पर सीओ लेवल के अधिकारी के नेतृत्व में पुलिस की एक टीम चौकसी बरते हुए है।


Popular posts
सेंट एंथोनी कॉन्वेंट स्कूल डेयरी कॉलोनी गोरखपुर में महात्मा गांधी एवं लाल बहादुर शास्त्री जी के जन्मदिन पर गीत संगीत और नृत्य का हुआ आयोजन
Image
बस्ती:-सौम्याअग्रवाल आईएएस,बस्ती की नई जिलाधिकारी बनी, जानिए उनकी सफलता की कहानी
Image
ईमानदारी का मिसाल बना ऑटो चालक यूसुफ ने अपनी सवारी का रुपये से भरा पर्स पाने पर पुलिस को लौटाया
Image
बस्ती के नए सीडीओ राजेश कुमार प्रजापति,
Image
प्रतिकार फिल्म चौरी चौरा 1922 में सांसद रवि किशन की दमदार भूमिका,, सीन देख कर दर्शकों की विभिन्न प्रतिक्रिया
Image