गोंडा के व्यवसायी पुत्र के अपहरण में महिला सहित चार गिरफ्तार,अपह्रत सकुशल,मुठभेड़ मे एक बदमाश घायल,घटना में प्रयुक्त आल्टो एवं दो तमंचे बरामद, देखे वीडियो


शुक्रवार को करनैलगंज कस्बे से गुटखा व्यवसायी के पौत्र का अपहरण कर चार करोड़ की फिरौती के वारदात को पुलिस ने कुछ ही घंटे में सुलझा लिया और बच्चे को सकुशल बरामद करते हुए चार लोगों को गिरफ्तार किया।


           बच्चे को छुड़ाने के दौरान पुलिस और अपहरणकर्ताओं के बीच मुठभेड़ हुई जिसमें दो बदमाशों के पैर में गोली भी लगी है। पुलिस के साथ-साथ एसटीएफ की टीम भी अपहरणकर्ताओं की तलाश में जुटी हुई थी। पूरे प्रकरण की मॉनिटरिंग स्वयं एडीजी कानून व्यवस्था प्रशांत कुमार कर रहे थे।


            एसटीएफ और जिला पुलिस के संयुक्त अभियान में सवा सात बजे यह सफलता मिली। एडीजी ला एंड आर्डर और एसटीएफ के एसपी मुठभेड़ स्थल पर मौजूद रहे। प्रारम्भिक जानकारी के अनुसार पुलिस और एसटीएफ रात से ही बच्चे की सकुशल बरामदगी के लिए लगी थी।



            सीओ के मुताबिक शनिवार सुबह भौरीगंज रोड पर अपहरणकर्ताओं की लोकेशन सर्विलांस से मिली। एसटीएफ और पुलिस टीम ने पीछा किया तो कार एक खम्भे से टकरा गई। दो अपहरणकर्ता गाड़ी से भागने लगे। दोनों ने पुलिस टीम पर फायर किया। जवाब में पुलिस ने दो बदमाशों को जवाबी फायरिंग में दबोच लिया। पुलिस के अनुसार गाड़ी से अपह्रत बच्चे के साथ एक महिला और पुरुष को हिरासत में ले लिया गया है। दोनों घायल अपहरणकर्ताओं को जिला अस्पताल में भेजा गया है। 



           इस बारे में उत्तर प्रदेश के एडीजी (लॉ एंड ऑर्डर) प्रशांत कुमार ने मीडिया से बात करते हुए बताया कि बच्चे को सुरक्षित छुड़ा लिया गया है और पुलिस तथा एसटीएफ की टीम को एक-एक लाख रुपये देने का ऐलान किया गया है।



             ज्ञात रहे कि शुक्रवार को करनैलगंज नगर के मोहल्ला गाड़ी बाजार में कस्बा पुलिस चौकी के पीछे रहने वाले गुटखा मसाला के एक बड़े विक्रेता राज़ेश कुमार गुप्ता के छ: वर्षीय पौत्र का बदमाशों ने अपहरण कर लिया।


        लोगो के मुताबिक एक कार से स्वास्थ्य विभाग का परिचय पत्र गले में टांग कर कुछ लोग मोहल्ले में मास्क का वितरण करने के लिए आए और लोगों का नाम एक कागज पर लिख रहे थे। मोहल्ले में सेनिटाइजेशन कराने व सेनिटाइजर का वितरण करने का झांसा दिया। इसी लालच में छ: वर्षीय बच्चे को साथ में लेकर यह कहते हुए गए कि गाड़ी से सेनिटाइजर निकाल कर देने के बहाने बच्चे को लेकर फरार हो गए। यह जानकारी भी परिवार वालों को तब हुई जब बच्चे के पिता हरि गुप्ता के मोबाइल पर बदमाशों ने कॉल कर चार करोड़ रुपये की फिरौती मांगी।


             फिलहाल घटना की सूचना मिलने के बाद पुलिस के आला अधिकारी मौके पर पहुंचे। कानपुर के अपहरण मामले में भद्द पिटने से सतर्क प्रशांत कुमार ने स्वयं एसटीएफ के साथ कमान संभाली और शासन स्तर से सभी टीमें लगाई गईं। जो भी संसाधन बल पुलिस का था वो लगाया गया। गोड़ा के डीआईजी और एसपी की टीमें लगी हुई थीं। इसके बाद मुठभेड़ हुई जिसमें अपहरणकर्ता बच्चे को गाड़ी से कहीं और ले जाना चाह रहे थे। मुठभेड़ में अपह्रत बच्चे को सकुशल बचाया गया। दो बदमाश घायल हुए। सूरज पांडे और उनकी पत्नी छवि पांड तथा उनके छोटे भाई राज पांडे,उमेश यादव व दीपक कश्यप को गिरफ्तार किया गया है। घटना में प्रयोग गाड़ी अल्टो बरामद की गई है।   


    'प्रशांत कुमार ने आगे बताया, 'दो तमंचे, पिस्टल बरामद हुआ है। बदमाशों का अस्पताल में इलाज चल रहा है और मेडिकल किया जा रहा है। इलाके में कॉम्बिंग ऑपरेशन चल रहा है। इस षडयंत्र में जो भी लोग शामिल रहे हैं उनके खिलाफ भी कार्रवाई करेंगे। पुलिस की तरफ से एसटीएफ और स्थानीय पुलिस को एक-एक लाख रुपये का ईनाम घोषित किया गया है।


 


 


Popular posts
ऑन लाईन कार्यक्रमों को बढ़ावा,वर्तमान समय की मांग
Image
गुरु अर्जन देव जी का 415 शहीदी वा गुरपूर्व बड़े ही श्रद्धा एम सादगी के साथ मनाया गया
Image
बस्ती:-सौम्याअग्रवाल आईएएस,बस्ती की नई जिलाधिकारी बनी, जानिए उनकी सफलता की कहानी
Image
उत्तर प्रदेश में COVID-19 के कारण अपने माता-पिता को खोने वाले बच्चों से जुड़ी सरकारी योजनाओं और सुविधाओं पर समझ बनाने हेतु राज्य स्तरीय परिचर्चा का हुआ आयोजन
Image
बस्ती में नाइट कर्फ्यू का आगाज,रात 9बजे से सुबह 6बजे तक रहेगा कर्फ्यू,आवश्यक सेवाओं को छोड़कर सभी व्यक्तियों के आने-जाने पर रोक,
Image