वाम दलों ने प्रदर्शन कर पेट्रोल-डीजल के दाम वापस लिये जाने की मांग,सौंपा ज्ञापन


बस्ती । पेट्रोल-डीजल के दाम वापस लिये जाने, कोरोना के बहाने राजनीतिक दलों पर दर्ज मुकदमों को वापस लेने सहित तीन सूत्रीय मांगो को लेकर वाम दलों ने का. अशर्फीलाल और के.के. तिवारी के नेतृत्व में राज्यपाल को सम्बोधित ज्ञापन जिलाधिकारी के प्रशासनिक अधिकारी को सोमवार को सौंपा। 


देश व्यापी विरोध दिवस के क्रम में भाकपा व भाकपा के नेताओं ने पेट्रोल-डीजल के थोपे गये भारी करों को वापस लेने की मांग करते हुये कहा कि मूल्य वृद्धि से किसान परेशान हैं, आवश्यक उपभोक्ता सामग्री के दर में भारी मूल्य वृद्धि से पहले से कोरोना संकट का सामना कर रही जनता और परेशान होगी। ऐसे में सरकार मूल्य वृद्धि को तत्काल वापस ले। 


का. के.के. तिवारी, का. अशर्फीलाल ने ज्ञापन देने के बाद प्रेस को जारी विज्ञप्ति में कहा कि लॉक डाउन के प्रोटोकाल का बहाना लेकर जनहित के सवाल पर आन्दोलन करने वाले राजनीतिक दलों के पदाधिकारियों, कार्यकर्ताओं पर फर्जी मुकदमें दर्ज किये जा रहे हैं, इसे वापस लिया जाय, यह कदम पूरी तरह से अलोकतांत्रिक है। राज्यपाल को भेजे ज्ञापन मंें मनरेगा के कार्य दिवस को बढासे जाने, किसानों के सभी प्रकार के कर्जे माफ किये जाने, गन्ना किसानों का बकाया भुगतान कराये जाने आदि की मांग शामिल हैं।


ज्ञापन सौंपने वालों में का. रामगढी चौधरी, सत्यराम, रमन कुमार, शेषमणि, मोहित शर्मा आदि शामिल रहे।


Popular posts
गुरु अर्जन देव जी का 415 शहीदी वा गुरपूर्व बड़े ही श्रद्धा एम सादगी के साथ मनाया गया
Image
बस्ती:-सौम्याअग्रवाल आईएएस,बस्ती की नई जिलाधिकारी बनी, जानिए उनकी सफलता की कहानी
Image
उत्तर प्रदेश में COVID-19 के कारण अपने माता-पिता को खोने वाले बच्चों से जुड़ी सरकारी योजनाओं और सुविधाओं पर समझ बनाने हेतु राज्य स्तरीय परिचर्चा का हुआ आयोजन
Image
बस्ती में नाइट कर्फ्यू का आगाज,रात 9बजे से सुबह 6बजे तक रहेगा कर्फ्यू,आवश्यक सेवाओं को छोड़कर सभी व्यक्तियों के आने-जाने पर रोक,
Image
सर्व धर्म प्रार्थना सभा का हुआ आयोजन,कोरोना से मरे लोगों को किया याद
Image