चीनी मिल की नीलामी रोकने, मिल चलाने, गन्ना मूल्य भुगतान की मांग को लेकर राष्ट्रपति को भेजा ज्ञापन समस्याओं का हल न हुआ तो होगा आन्दोलन- सिद्धार्थ सिंह


बस्ती। समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं उ.प्र. आवास विकास परिषद के पूर्व उपाध्यक्ष सिद्धार्थ सिंह ने मंगलवार को जिलाधिकारी के माध्यम से राष्ट्रपति को ऑन लाइन 4 सूत्रीय ज्ञापन भेजकर बस्ती, वाल्टरगंज शुगर मिल की नीलामी रोकने बंद पड़ी दोनों मिलों को चलवाने के साथ ही किसानों का बकाया गन्ना मूल्य भुगतान कराने की मांग किया है।


ज्ञापन में सपा नेता सिद्धार्थ सिंह ने कहा है कि बस्ती समेत पूर्वान्चल चीनी के कटोरे के रूप में जाना जाता था किन्तु भाजपा की सरकार में न तो गन्ना मूल्य में कोई वृद्धि की गई न ही गन्ना मूल्य भुगतान हो पा रहा है। बस्ती और वाल्टरगंज चीनी मिलों को चलाने की जगह मिलों की नीलामी की तैयारी है। इसकी तिथि 13 जुलाई निर्धारित किया गया है। नीलामी से प्राप्त 4 करोड़ रूपये में से किसानों को कितना भुगतान किया गया है यह जांच का विषय है।


4 सूत्रीय ज्ञापन में बस्ती के वाल्टरगंज, रूधौली, मुण्डेरवा चीनी मिलों पर गन्ना किसानों का बकाया भुगतान कराने, फिनिल शुगर गु्रप (बस्ती शुगर मिल कम्पनी की यूनिट) की नीलामी पर तत्काल रोक लगाने, फिनिल शुगर गु्रप के निदेशक मण्डल पर मुकदमा दर्ज कराये जाने, बजाज ग्रुप तथा बस्ती शुगर मिल कम्पनी लिमिटेड में व्याप्त भ्रष्टाचार के खुलासे हेतु हाईकोर्ट के वर्तमान न्यायाधीश से जांच कराये जाने, बस्ती, वाल्टरगंज, रूधौली चीनी मिलों को सरकारी नियंत्रण में लेकर चलाये जाने, बकाया गन्ना मूल्य, श्रमिकों का वेतन भुगतान कराये जाने आदि की मांग शामिल है।


सपा नेता सिद्धार्थ ने कहा है कि मांगे पूरी न हुई तो लाक इन के नियमों का पालन करते हुये आन्दोलन छेडा जायेगा।


Popular posts
बस्ती:-सौम्याअग्रवाल आईएएस,बस्ती की नई जिलाधिकारी बनी, जानिए उनकी सफलता की कहानी
Image
औरों को सुख पहुंचाने से बेहतर कोई काम नहीं -- कवि तारकेश्वर मिश्र जिज्ञासु
Image
अपनी कविताओं में आम आदमी का दर्द बयां कर दो तुम -- कवि तारकेश्वर मिश्र जिज्ञासु
Image
सुर मलिका डॉ शहनाज खान सहित कई हस्तियों को नेशनल अमेरिकन यूनिवर्सिटी यू .एस.ए.ने "डॉक्टर ऑफ लिटरेचर इन म्यूजिक " डि. लिट की उपाधि से किया सम्मानित ..
Image
भावना शर्मा को दिल्ली ओलंपिक खेलों में रैफ्री के लिए आमंत्रण
Image