तुलसी मीर सम्मान से सम्मानित हुए अम्बेडकर नगर के तारकेश्वर मिश्र जिज्ञासु !


रियाज़त है ख़ुद की और साथ में दुआएं भी ! ऐसे में मंज़िल रहेगी दूर कब तक !! चर्चित कवि व मंच संचालक तारकेश्वर मिश्र जिज्ञासु का यह शेर ख़ुद उनके ही किरदार पर सटीक बैठता है ! अंबेडकरनगर निवासी कवि जिज्ञासु पेशे से शिक्षक हैं ! कविता और शायरी उनका शौक़ है जो उन्हें निरंतर शोहरत के नए-नए पायदान पर खड़ा करता है ! यह बताना ज़रूरी है कि जिज्ञासु शायरी के साथ-साथ कवि सम्मेलन व मुशायरे की निजामत का किरदार बखूबी निभाते हैं ! किसी भी तरह का साहित्यिक व सामाजिक मंच हो वहां जिज्ञासु की उपस्थिति ही कार्यक्रम की कामयाबी हुआ करती है ! लेखन का शौक भी ऐसा कि हर विषय वस्तु पर किसी न किसी विधा में लिख देते हैं ! कोरोना संक्रमण व लॉक डाउन के साथ सोशल मीडिया पर ऑनलाइन कवि सम्मेलन तथा फेसबुक लाइव शो में निरंतर जिज्ञासु जी का काव्य पाठ व संचालन चल रहा है ! रवीना प्रकाशन नई दिल्ली द्वारा प्रकाशित जिज्ञासु का प्रथम काव्य संग्रह -  " एक आईना जिज्ञासु की कलम से " पाठकों द्वारा खूब पसंद की गई ! हाल ही में कई साहित्यिक संस्थाओं द्वारा जिज्ञासु को सम्मानित किया गया है ! इसी कड़ी में " हम तुम और ग़ज़ल शायरी एवं ग़ज़ल संध्या परिवार " द्वारा आयोजित ऑनलाइन अखिल भारतीय कवि सम्मेलन में जिज्ञासु जी को तुलसी मीर सम्मान से नवाज़ा गया है ! उनके सम्मान पर शिक्षकों कवियों और साहित्यकारों ने प्रसन्नता व्यक्त करते हुए उन्हें शुभकामनाएं दी !



Popular posts
वरना माँ तो माँ है तुमसे शिकायत करेगी कैसे – कवि तारकेश्वर मिश्र जिज्ञासु
Image
बस्ती के नए सीडीओ राजेश कुमार प्रजापति,
Image
बस्ती रियासत के पूर्व राजा एवं पूर्व विधायक राजा लक्ष्मेश्वर सिंह की पुण्य तिथि पर श्रद्धांजलि सभा का हुआ आयोजन, उनके चित्र पर पुष्प अर्पित पर हवन कर उन्हें श्रद्धांजलि दी
Image
वाजा इंडिया" की नई कार्यकारिणी घोषित,वरिष्ठ पत्रकार पी. बी. वर्मा अध्यक्ष,शिवेन्द्र प्रकाश द्विवेदी महासचिव बने
Image
रेड क्रॉस के सचिव कुलवेन्द्र सिंह मजहबी को राज्यपाल ने सम्मानित किया
Image