टायलेट इस्तेमाल में भी रहे सावधान,एक टायलेट इस्तेमाल से दिल्ली में 41 लोग संक्रमित


दिल्ली । देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ती जा रही है. दक्षिणी पश्चिमी दिल्ली के कापसहेड़ा इलाके में शनिवार को एक ही बिल्डिंग के 41 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं. कापसहेड़ा इलाके की ‘ठेके वाली गली’ में एक ही बिल्डिंग में पाए गए 41 कोरोना मरीजों के पीछे कहीं ना कहीं घनी आबादी को जिम्मेदार बताया जा रहा है.


दक्षिणी पश्चिमी दिल्ली के डीएम राहुल सिंह ने रविवार को कहा कि एक ही बिल्डिंग में जो 41 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं, वह सभी एक ही टॉयलेट का इस्तेमाल कर रहे थे. दरअसल, घनी आबादी वाले इस इलाके में छोटे- छोटे मकान हैं, जिसमें काफी संख्या में लोग रहते हैं.और ये भी माना जा रहा है कि कुछ एक कोरोना के लक्षण को छिपाए रहे होंगे, जिसकी वजह से इस बिल्डिंग के 41 लोगों कोरोना से संक्रमित हो गए, प्रशासन को चाहिए कि ऐसे लोगों पर मुकदमा दर्ज हो ।


डीएम के मुताबिक जिस बिल्डिंग में 41 कोरोना मरीज पाए गए हैं, वहां करीब 200 लोग रहते हैं. छोटे मकान और घनी आबादी की वजह से सोशल डिस्टेंसिंग का पालन न के बराबर था. वहीं, उन्होंने यह भी कहा कि जो 41 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं, उनका आज फिर टेस्ट होगा. इसके अलावा कापसहेड़ा इलाके में और कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ने का भी अंदेशा है.


दिल्ली सरकार ने उठाया बड़ा कदम


कापसहेड़ा में कोरोना टेस्ट रिपोर्ट देरी से आने के बाद दिल्ली सरकार ने बड़ा फैसला लिया है. दिल्ली सरकार अब दिल्ली की प्राइवेट लैब में जांच के लिए सैंपल भेजेगी. राज्य के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि दिल्ली में कोरोना की टेस्ट रिपोर्ट के लिए 24 से 36 घंटे का टाइम तय किया गया है. उन्होंने कहा कि नोएडा की एक लैब में सैंपल भेजने के बाद 10 से 11 दिन बाद कापसहेड़ा के लोगों की रिपोर्ट आई थी.


क्या है पूरा मामला?


दिल्ली के कापसहेड़ा इलाके की एक बिल्डिंग में 18 अप्रैल को कोरोना का पहला मामला सामने आया था. घनी आबादी होने की वजह से प्रशासन ने 19 अप्रैल को इलाके को सील कर दिया था. इसके बाद यहां के 95 लोगों के सैंपल 20 अप्रैल को और 80 लोगों के सैंपल 21 अप्रैल को नोएडा की NIB लैब में कोरोना की जांच के लिए भेजे गए थे.


कुल मिलाकर 175 लोगों के सैंपल में से 67 लोगों के सैंपल की रिपोर्ट शनिवार को आई. इनमें से 41 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए हैं. हालांकि, अभी कुछ लोगों की रिपोर्ट आनी बाकी है


Popular posts
सेंट एंथोनी कॉन्वेंट स्कूल डेयरी कॉलोनी गोरखपुर में महात्मा गांधी एवं लाल बहादुर शास्त्री जी के जन्मदिन पर गीत संगीत और नृत्य का हुआ आयोजन
Image
बस्ती:-सौम्याअग्रवाल आईएएस,बस्ती की नई जिलाधिकारी बनी, जानिए उनकी सफलता की कहानी
Image
बस्ती के नए सीडीओ राजेश कुमार प्रजापति,
Image
ईमानदारी का मिसाल बना ऑटो चालक यूसुफ ने अपनी सवारी का रुपये से भरा पर्स पाने पर पुलिस को लौटाया
Image
प्रतिकार फिल्म चौरी चौरा 1922 में सांसद रवि किशन की दमदार भूमिका,, सीन देख कर दर्शकों की विभिन्न प्रतिक्रिया
Image