राज्य में करीब 25 लाख प्रवासी मजदूर आएंगे,जिनकी छमता का लाभ उठाना है:-योगी,MSME में 56,754 लाभार्थियों को 202 करोड़ रुपये का लोन वितरण होगा


उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राज्य के ऑनलाइन लोन फेयर में MSME (सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम) क्षेत्र से जुड़े लोगों को चेक सौंपे. सीएम ने कहा कि MSME विभाग राज्य स्तरीय बैंकर कमेटी के साथ संवाद बनाकर 56,754 लाभार्थियों को 202 करोड़ रुपये का लोन वितरण एक साथ कर रहा है.


सीएम योगी ने प्रधानमंत्री और वित्त मंत्री का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि इस कार्यक्रम के तहत लगभग 36,000 व्यापारियों को 1,600-2,000 करोड़ रुपये का ऋण मिलेगा. उन्होंने कहा कि MSME सेक्टर में यूपी में अपार संभावनाएं हैं. काफी तादाद में रोजगार सृजन होगा. करीब 2 लाख लोगों को नए रोजगार से जोड़ा जा सकता है.


उन्होंने कहा कि राज्य में करीब 25 लाख प्रवासी मजदूर आएंगे. प्रवासी मजदूरों की क्षमता का लाभ उठाएंगे. हमारे पास अब तक लगभग 12 लाख प्रवासी मजदूर आ चुके हैं, 10 लाख प्रवासी मजदूर अभी और आने वाले हैं. इनमें ड्राइवर, प्लंबर, टेलर, अलग-अलग क्षेत्र में काम करने वाले बहुत अच्छे कौशल के लोग हैं.


सीएम ने कहा कि उत्तर प्रदेश मनरेगा में रोजगार देने में अग्रणी प्रदेशों में है. कल तक हम प्रतिदिन 25 लाख लोगों को मनरेगा के माध्यम से रोजगार दे रहे थे. मेरा अनुमान है कि इस महीने के अंत तक हम इसे 50 लाख तक लेकर जाएंगे.