कोरोना से निपटने के उपायों पर राहुल ने की चर्चा,आर्थिक पैकेज, लोकल प्लानिंग और सीधी मदद पर ध्यान दे सरकार


देश में कोरोना महामारी के बीच कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने देश की बिगड़ती आर्थिक स्थिति पर चिंता जताते हुए गरीबों को फौरन मदद करने का सरकार को सुझाव दिया है. राहुल गांधी ने कहा कि अर्थव्यवस्था के लिए लॉकडाउन को खोलने के तरीकों पर विचार करना चाहिए. उन्होंने कहा कि जोन को ग्रीन, रेड या ऑरेंज घोषित करने का फैसला जिला स्तर पर छोड़ देना चाहिए. राहुल ने इकोनॉमी और स्वास्थ्य सेवा से जुड़े तमाम सुझाव दिए हैं.
कोरोना का कहर जुलाई के बाद भी संभव
एम्स के डायरेक्टर के कोरोना वायरस जून या फिर जुलाई में अपना विकराल रूप धारण करने के अनुमान के सवाल पर राहुल गांधी ने कहा कि एम्स के डायरेक्टर कह रहे हैं कि अभी जून और जुलाई में कोरोना के मरीज बढ़ेंगे. लेकिन मुझे लगता है कि कोरोना उसके बाद यानी अगस्त में भी अपना असर दिखाए उससे पहले टेस्टिंग को बढ़ाना होगा. राहुल गांधी ने कहा कि प्रवासी मजदूरों का पहले टेस्ट करिए उसके बाद ही उन्हें यात्रा की अनुमति दी जा सके.
उन्होंने कहा कि लॉकडाउन ने पूरी दुनिया की सोच बदली है. लॉकडाउन से पहले कोरोना कभी जान नहीं लेता था लेकिन लॉकडाउन के बाद सब बदल गया. उन्होंने कहा कि एक प्रतिशत लोगों के लिए ही ये खतरनाक है. उन्होंने कहा कि 99 प्रतिशत लोगों के लिए यह खतरनाक नहीं है. प्रधानमंत्री को भी इसके बारे में लोगों को बताने के लिए आगे आना चाहिए, क्योंकि लॉकडाउन को खोलना ही होगा. राहुल बोले कि आज कोई RSS, कांग्रेस या बीजेपी का नहीं है, हर किसी को एक हिन्दुस्तानी की तरह खड़ा होना पड़ेगा और लड़ना होगा. आज हर किसी को डर के माहौल को खत्म करना है, वरना लॉकडाउन नहीं हटेगा.
जोन राज्य-जिला स्तर पर तय होना चाहिए
राहुल गांधी ने कहा कि देश में जो हालात हैं वह नॉर्मल नहीं हैं. ऐसे में हमें इस लड़ाई को जिले स्तर पर ले जाने की जरूरत है. पीएम मोदी को ऐसे समय में पावर डिसेंट्रलाइज करने की जरूरत है. प्रधानमंत्री को डीएम पर भरोसा करना पड़ेगा, उन्हें पावर देना पड़ेगा.अगर यह लड़ाई पीएमओ से लड़ी गई तो हम इसे हार जाएंगे.
उन्होंने कहा कि रेड, ऑरेंज और ग्रीन जोन पर भी भ्रम है. उन्होंने कहा कि रेड, ग्रीन और ऑरेंज जोन को अभी केंद्र सरकार तय कर रही है जो गलत है. इसे राज्य और जिला स्तर पर तय करना चाहिए. हमारे मुख्यमंत्री कह रहे हैं कि जो जोन रेड बताए गए हैं वे ग्रीन हैं और ऐसे ही जिन्हें ग्रीन कहा गया उनमें से कुछ रेड हैं.
अर्थव्यवस्था को लेकर रिस्क लेना होगा
राहुल गांधी ने आने वाली आर्थिक बदहाली से सरकार को आगाह किया है. उन्होंने कहा कि आने वाला वक्त आर्थिक दृष्टकोण से बहुत ही मुश्किलों भरा है लिहाजा सरकार को आम लोगों की मदद करनी चाहिए. कांग्रेस नेता राहुल ने कहा कि सरकार सोच रही है कि अगर तेजी से पैसा खर्च करना शुरू कर देंगे, तो रुपये की हालत खराब हो जाएगी. लेकिन सरकार को इस वक्त रिस्क लेना होगा, क्योंकि जमीनी स्तर पर पैसा पहुंचाना जरूरी है. सरकार जितना सोच रही है, उतना हमारा समय बर्बाद हो रहा है. राहुल गांधी बोले कि मुख्यमंत्रियों ने हमें अपने राज्य की हालत बताई, केंद्र से पैसा नहीं मिल रहा है.
न्याय योजना से पैसा देने की जरूरत
प्रवासी मजदूरों के बारे में बात करते हुए कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा कि फिलहाल देश में आपातकाल जैसे हालात हैं. न्याय योजना की मदद से लोगों के हाथ में पैसा देना शुरू करना चाहिए. गरीबों के हाथ में 7500 रुपये देना सही फैसला होगा. उन्होंने कहा कि इससे 65 हजार करोड़ का खर्च आएगा. उन्होंने कहा कि देश में बहुत से लोग दिहाड़ी मजदूर है इसलिए जरूरत है कि लोगों को काम दिया जाए.
पैकेज की सरकार करें घोषणा
राहुल गांधी ने कहा कि इस समय सबसे ज्यादा जरूरत आर्थिक पैकेज की है, क्योंकि अर्थव्यवस्था को स्टार्ट करने की जरूरत है. उन्होंने कहा कि छोटे कारखानों को बड़े कारखानों के साथ मौका देना होगा. राहुल गांधी ने कहा कि सरकार समय नष्ट कर रही है. समय की जरूरत यह है कि केंद्र की मोदी सरकार को जल्द से जल्द छोटे और मध्यम वर्ग के उद्योगों के लिए पैकेज का ऐलान करना चाहिए. ऐसे में सरकार को एक रास्ता निकालने की जरूरत है. अगर ऐसे ही चलता रहा तो नौकरी जाने की सुनामी आ जाएगी. आज डिमांड क्रि​एट करने की जरूरत है तभी सप्लाई शुरू होगी. इसी के देश की अर्थव्यवस्था को बचाया जा सकता है.


Popular posts
बस्ती:-सौम्याअग्रवाल आईएएस,बस्ती की नई जिलाधिकारी बनी, जानिए उनकी सफलता की कहानी
Image
औरों को सुख पहुंचाने से बेहतर कोई काम नहीं -- कवि तारकेश्वर मिश्र जिज्ञासु
Image
अपनी कविताओं में आम आदमी का दर्द बयां कर दो तुम -- कवि तारकेश्वर मिश्र जिज्ञासु
Image
सुर मलिका डॉ शहनाज खान सहित कई हस्तियों को नेशनल अमेरिकन यूनिवर्सिटी यू .एस.ए.ने "डॉक्टर ऑफ लिटरेचर इन म्यूजिक " डि. लिट की उपाधि से किया सम्मानित ..
Image
भावना शर्मा को दिल्ली ओलंपिक खेलों में रैफ्री के लिए आमंत्रण
Image