बस्ती:-न्याय के आशा मे अधिकारियों के पीछे चक्कर काट रही है पीड़िता,नहीं हो रही है सुनवाई


बस्ती। महिला अपराधों को लेकर पुलिस गंभीर नही है। पीडित महिलाऐं न्याय पाने के आस मे चल रहे लाॅकडाउन मे अधिकारियों के चैखट खटखटा रही हैं। लेकिन इन्हें सुनने वाला कोई नही है। कहते हैं कि जहां रूपये की ताकत हो वहां कानून भी आंख बन्द कर लेता है। पुलिस गंभीर मामलों मे वांछित अभियुक्तों से याराना का सम्बन्ध निभाती है। निभाये भी क्यों न धर्नाजन उसी से ही होना है। इसकी ताजा उदाहण है जिले के कलवारी थाना क्षेत्र के उमरिया गांव की रहने वाली एक पीडित है जिसने 8 फरवरी 2020 को थाना कोतवाली मे मुकदमा अपराध संख्या- 0065/2020 धारा- 493,316,323,504,506 व दहेज उत्पीडन अधिनियम के तहत पांच लोगों केे विरूद्व मुकदमा दर्ज कराया था। लेकिन महीनों बीतने के बाद भी आरोपी गिरफ्तार नही हुए।


  पीडिता ने बताया कि जबसे यह मुकदमा दर्ज हुआ है उसी समय मुकदमें के विवेचक शिवाजी मिश्रा ने आरोपी को गिरफ्तार कर छोड दिया था और उसे फरार होने का मंत्र देकर मामले को दबाते छिपाती और मेरे ही उपर ही नाजायज दबाव बनाते हुए अनेकों आरोप लगाती रहे। आज तक पुलिस आरोपियों को गिरफ्तार करने से बच रही है। अब पुलिस का आरोपियों के प्रति अगाध मोह क्यों है यह विवेचक शिवाजी मिश्रा ही बता सकते हैं।


 पीडिता ने बताया कि उसके पिता का निधन हो चुका है मां है वह भी अस्वस्थ्य है। मेरे आगे पीछे कोई नही है। मै अपने मुकदमे की पैरवी के लिए खुद दौड भाग करती हूं। पीडिता ने बताया कि एफआईआर के खिलाफ आरोपी उच्च न्यायालय भी रिट किया था लेकिन उच्च न्यायालय ने 17 मार्च 2020 को खारिज कर दिया था। फिर भी विवेचक आरोपियों की गिरफ्तारी नही करना चाहते हैं। पीडिता ने उच्चाधिकारियों से आरोपियों की गिरफ्तारी कराने तथा न्याय दिलाने की मांग की है।


Popular posts
बस्ती मंडल के नए डीआईजी श्री आर के भारद्वाज,अलीगढ़ के मूल निवासी है श्री भारद्वाज
Image
बस्ती की नई डीएम प्रियंका निरंजन,2013 बैच की आईएएस अफसर है प्रियंका निरंजन।
Image
राष्ट्रीय ग़जलकार सम्मेलन में देश के 10 राज्यों के 26 शहरों के नामी गिरामी ग़जलकारों ने ग़ज़लों की महफ़िल सजाई, जमकर हुई हौसला अफजाई
Image
बस्ती:-जिलाधिकारी प्रियंका निरंजन ने चार्ज ग्रहण किया,मीटिंग में अधिकारियों को आवश्यक निर्देश जारी किया।
Image
बस्ती:-सौम्याअग्रवाल आईएएस,बस्ती की नई जिलाधिकारी बनी, जानिए उनकी सफलता की कहानी
Image