अहमदाबाद से श्रमिक ट्रेन में मुजफ्फरपुर के लिए निकली महिला ने रास्ते में दम तोड़ा, दो साल का बेटा जगाने की कर रहा कोशिश, देंखे वीडियो

मुजफ्फरपुर: बिहार में प्रवासी मजदूरों के परेशानियों का सिलसिला खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है. श्रमिक ट्रेन से मुजफ्फरपुर आने के दौरान एक महिला ने दम तोड़ दिया. महिला का महज दो साल का बेटा चादर में लिपटे मां के शव को बार-बार जगाने की कोशिश कर रहा था. 



कभी वो अपनी मां को उठाने की कोशिश तो कभी खेलने में लगा था. बच्चे को पता भी नहीं था कि उसकी मां अब इस दुनिया में नहीं रही. महिला का नाम अरवीना खातून (35) था. वो कटिहार की रहने वाली थी. महिला अपनी बहन और जीजा के साथ श्रमिक एक्सप्रेस से अहमदाबाद से बिहार आ रही थी. बीते रविवार को वह ट्रेन में सवार हुई. 


ट्रेन में महिला की स्थिति अचानक खराब हो गई और सोमवार को दोपहर करीब 12 बजे महिला की ट्रेन में मौत हो गई. ट्रेन मुजफ्फरपुर जंक्शन पर दोपहर के करीब तीन बजे पहुंची. रेलवे पुलिस ने महिला के शव को ट्रेन से उतारा. महिला के शव को जब प्लेटफॉर्म पर रखा गया, तब उसका ढाई साल का बच्चा शव के करीब पहुंच गया. वह मां के पास खेलने लगा, उसे जगाने की कोशिश करने लगा.


वहीं, इस घटना पर जीआरपी के डिप्टी एसपी रमाकांत उपाध्याय ने कहा, 'यह घटना 25 मई की है. महिला अहमदाबाद से आ रही थी और मधुबनी में उसकी मौत हो गई. उसके जीजा ने बताया कि अचानक ही महिला की मौत हो गई. खाने और पानी की कोई समस्या नहीं थी. महिला को पिछले एक साल से  बीमारी थी और वह दिमागी तौर से अस्थिर भी थी. 


Popular posts
सेंट एंथोनी कॉन्वेंट स्कूल डेयरी कॉलोनी गोरखपुर में महात्मा गांधी एवं लाल बहादुर शास्त्री जी के जन्मदिन पर गीत संगीत और नृत्य का हुआ आयोजन
Image
बस्ती:-सौम्याअग्रवाल आईएएस,बस्ती की नई जिलाधिकारी बनी, जानिए उनकी सफलता की कहानी
Image
बस्ती के नए सीडीओ राजेश कुमार प्रजापति,
Image
ईमानदारी का मिसाल बना ऑटो चालक यूसुफ ने अपनी सवारी का रुपये से भरा पर्स पाने पर पुलिस को लौटाया
Image
प्रतिकार फिल्म चौरी चौरा 1922 में सांसद रवि किशन की दमदार भूमिका,, सीन देख कर दर्शकों की विभिन्न प्रतिक्रिया
Image