आज हो सकता है लाक डाउन 4 का ऐलान,कई और दुकानों को खोलने सहित मिल सकती हैं कई अन्य तरह की रियायतें


नई दिल्ली: कोरोनावायरससे निपटने के लिए लाक डाउन 4 की घोषणा कल हो सकती है और यह पिछले तीनों लॉकडाउन से बिल्कुल अलग होगा. लॉकडाउन 4.0 इस लिहाज से भी अलग होगा कि इसकी घोषणा के लिए प्रधानमंत्री देश को संबोधित नहीं करेंगे, बल्कि केवल नई गाइडलाइन जारी की जाएंगी. सूत्रों का कहना है कि गृह मंत्रालय (MHA) शनिवार को लॉकडाउन के चौथे चरण का ऐलान कर सकता है.


25 मार्च को लागू किया गया लॉकडाउन मूल रूप से 14 अप्रैल को समाप्त होने वाला था. लेकिन पहले इसे 3 मई और फिर 17 मई तक बढ़ाया गया. लॉकडाउन 4.0 में सरकार अर्थव्यवस्था को ध्यान में रखते हुए कुछ छूट दे सकती है. जानकारी के अनुसार, ग्रीन ज़ोन में परिवहन और उद्योगों को चलाने के बारे में राज्यों को केंद्र से छूट दी जाएगी. ग्रीन ज़ोन में सार्वजनिक परिवहन जैसे बसों, टैक्सियों के संचालन को मंजूरी या छूट दी जा सकती है.     


लॉकडाउन 4.0 में कारखानों या उद्योगों को फिर से चलाने की छूट मिल सकती है, लेकिन श्रमिकों को लाने-ले जाने के लिए अधिकारियों को राज्य के लिए आवश्यक व्यवस्था करनी होगी. हालांकि, यात्री ट्रेनों को फिलहाल नहीं चलाया जाएगा. केवल स्पेशल और श्रमिक ट्रेनें ही चलेंगी. स्पेशल ट्रेनों की संख्या और मार्गों में वृद्धि पर भी चर्चा की जा रही है. वहीं, 18 मई से घरेलू उड़ानों के संचालन को फिर से शुरू करना एक और पहलू है जिस पर विचार किया जा रहा है. चुनिंदा रूट पर घरेलू हवाई सेवा को मंजूरी दी जा सकती है. पहले चरण में फ्लाइट की फ्रीक्वेंसी कम रखी जाएगी, जिसे आने वाले दिनों या महीनों में बढ़ाया जा सकता है. यह बात अलग है कि कई राज्यों ने हवाई सेवा शुरू करने का विरोध किया है.


लॉकडाउन के चौथे चरण में कई आर्थिक गतिविधियों को अनुमति मिलेगी. उदाहरण के तौर पर हार्डवेयर, बाइक सहित कई अन्य दुकानों को खोलने का फैसला भी लिया जा सकता है. गौरतलब है कि पीएम मोदी ने सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों को 15 मई तक अपने सुझाव भेजने के लिए कहा था, ताकि लॉकडाउन 4.0 का प्रारूप तैयार किया जा सके. दिल्ली सरकार ज्यादा आर्थिक गतिविधियों को अनुमति देने की मांग कर रही है.


माना जाता है कि वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से प्रधानमंत्री के साथ बैठक में, सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा था कि कंटेंटमेंट ज़ोन जैसे कि निज़ामुद्दीन और बफर क्षेत्रों में कड़े उपाय लागू रहें और बाकी शहर में ज्यादा आर्थिक गतिविधियों की अनुमति दी जाए. इतना ही नहीं कोरोना के बढ़ते मामलों के बावजूद CM केजरीवाल मॉल फिर से खोलने और कुछ शर्तों के साथ ऑटो एवं टैक्सी सेवा शुरू करने के लिए भी उत्सुक हैं. 


Popular posts
बस्ती की नई डीएम प्रियंका निरंजन,2013 बैच की आईएएस अफसर है प्रियंका निरंजन।
Image
दिल्ली:- 12 साल के लड़के ने 18 साल की लड़की को किया गर्भवती, अस्पताल में बच्चे को जन्म देकर लड़की ने किया खुलासा
Image
खलीलाबाद से बहराइच तक रेल लाइन बिछेगी, डीपीआर रेलवे बोर्ड को प्रेषित
Image
ग़ज़लों की महफ़िल (दिल्ली) का नए चरण में हुआ प्रवेश,दसवीं कड़ी में मशहूर ग़ज़ल गायक दयानन्द ने बाँधा अनोखा समाँ,मन्त्रमुग्ध होकर घंटों सुनते रहे श्रोता
Image
बस्ती के नए सीडीओ राजेश कुमार प्रजापति,
Image