कोरोना संकट के बीच सरकार का फैसला,जुलाई 2021 तक केंद्रीय कर्मचारियों के DA पर रोक,केंद्रीय कर्मचारियों और पेंशनधारकों पर आदेश लागू


देश में कोरोना संकट की वजह से अर्थव्यवस्था पर भी बड़ा असर पड़ा है, इस बीच गुरुवार को भारत सरकार ने बड़ा फैसला किया है।
      फैसले के अनुसार, केंद्रीय कर्मचारियों को मिलने वाले डीए पर रोक लगा दी गई है, ये रोक एक जुलाई 2021 तक जारी रहेगी।
      वित्त मंत्रालय की ओर से जारी किए गए आदेश के अनुसार, कोरोना वायरस के संकट की वजह से एक जनवरी, 2020 के बाद से केंद्रीय कर्मचारी या पेंशनधारी को मिलने वाली डीए की राशि नहीं दी जाएगी, वहीं एक जुलाई 2020 से जो एडिशनल डीए मिलना था उसको भी नहीं दिया जाएगा।
      गौरतलब है कि कोरोना संकट की वजह से केंद्र सरकार की ओर से कई तरह की योजनाओं में कटौती की जा रही है, इससे पहले गुरुवार को ही रक्षा बजट में कटौती की बात सामने आई है, जहां पर नए प्रोजेक्ट्स की खरीद को कुछ वक्त के लिए रोकने की बात कही गई है, इस फैसले का असर राफेल विमान, एस-400 मिसाइल सिस्टम की खरीद पर भी पड़ सकता है।
      इससे पहले भारत सरकार ने प्रधानमंत्री, राष्ट्रपति, सांसद, मंत्रियों की सैलरी में तीस फीसदी तक की कटौती का ऐलान किया था, इतना ही नहीं, सांसद निधि फंड को भी दो साल के लिए निरस्त कर दिया गया था।
      आपको बता दें कि कोरोना वायरस के संकट की वजह से देश में 40 दिनों का लॉकडाउन लागू है, जिसके कारण अर्थव्यवस्था पूरी तरह से चौपट है, सबकुछ बंद है, इसका सीधा असर जीडीपी और रेवन्यू पर भी पड़ता दिख रहा है।


नरेंद्र


Popular posts
संजय द्विवेदी पीएचडी पात्र हेतु घोषित,राजेन्द्र माथुर का हिंदी पत्रकारिता में योगदान पर किया शोध
Image
वरना माँ तो माँ है तुमसे शिकायत करेगी कैसे – कवि तारकेश्वर मिश्र जिज्ञासु
Image
बंधन में बँधना मेरी क़ैफ़ियत को गवारा नहीं कभी – कवि तारकेश्वर मिश्र जिज्ञासु
Image
बस्ती रियासत के पूर्व राजा एवं पूर्व विधायक राजा लक्ष्मेश्वर सिंह की पुण्य तिथि पर श्रद्धांजलि सभा का हुआ आयोजन, उनके चित्र पर पुष्प अर्पित पर हवन कर उन्हें श्रद्धांजलि दी
Image
रेड क्रॉस के सचिव कुलवेन्द्र सिंह मजहबी को राज्यपाल ने सम्मानित किया
Image