1600 किमी पैदल चलकर घर पहुंचे युवक की क्वारंटाइन करने के 4 घंटे बाद ही हो गई मौत


श्रावस्ती। उत्तर प्रदेश के श्रावस्ती जिले में क्वारंटाइन किए गए एक युवक की मौत सोमवार को मौत हो गई। वह सोमवार की सुबह मुंबई से पैदल गांव पहुंचा था। लेकिन गांव पहुंचने के बाद उसे क्वारंटाइन कर दिया गया। क्वारंटाइन के करीब चार घंटे के बाद उसकी तबीयत खराब हो गई और उसने दम तोड़ दिया। युवक की मौत के बाक स्वास्थ्य विभाग और प्रशासन में हड़कंप मच गया। स्वास्थ्य विभाग ने आनन-फानन में युवक का सैंपल कोविड-19 जांच के लिए भेज दिया है।


मामला श्रीवस्ती के मल्हीपुर थाना क्षेत्र के मटखनवा गांव का है। गांव निवासी एक युवक सुबह करीब सात बजे बहराइच होकर पैदल अपने गांव आया। यहां उसे प्राथमिक विद्यालय में क्वारंटाइन कर दिया गया। लेकिन तकरीबन साढ़े दस बजे उसे पेट दर्द के साथ उल्टी-दस्त शुरू हो गई। गांव के सेक्रेटरी ने युवक की हालत बिगडने की जानकारी भंगहा सीएचसी अधीक्षक डॉ. प्रवीर कुमार को दी। जब तक सीएचसी से एंबुलेंस पहुंचती। तब तक युवक ने दम तोड़ दिया।


प्रशासन को जब इस घटना की जानकारी हुई तो जिम्मेदारों में हड़कंप मच गया। सीएमओ डॉ. एपी भार्गव सहयोगियों के साथ क्वारंटाइन स्थल पहुंचे। सीएमओ ने बताया कि मृतक युवक का सैंपल कोविड-19 जांच के लिए भेजा गया है। क्वारंटाइन सेंटर में पहुंचने के बाद उसके संपर्क में आए परिवार के आठ लोगों को स्कूल में ही क्वारंटाइन किया गया है। साथ ही शव को पोस्टमॉर्टम हाउस में रखवा दिया गया है। सैंपल रिपोर्ट आने के बाद अंतिम संस्कार की प्रक्रिया पर निर्णय लिया जाएगा।


उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस संक्रमित मामले बढ़कर 1986 हो गए है। स्वास्थ्य सेवा निदेशालय की तरह जारी ताजा जानकारी के मुताबिक, सोमवार की देर शाम कोरोना के 113 नए मरीज संक्रमित आए है, जिसके बाद 1986 मामले प्रदेश में हो गए है। बताया कि 399 मरीज स्वस्थ हुए जिन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है।


Popular posts
राजा लक्ष्मेश्वर सिंह की 67 वी जयंती पर राजभवन बस्ती में हुए विभिन्न कार्यक्रमो ने लोगो का मन मोहा, हुआ पुस्तक विमोचन
Image
बस्ती के नए पुलिस अधीक्षक बने गोपाल कृष्ण चौधरी, 2016बैच के है आईपीएस अधिकारी,
Image
परशुरामाचार्य पीठाधीश्वर स्वामी श्री सुदर्शन महाराज द्वारा सम्मानित हुए —कवि डॉ० तारकेश्वर मिश्र जिज्ञासु
Image
बस्ती:-सौम्याअग्रवाल आईएएस,बस्ती की नई जिलाधिकारी बनी, जानिए उनकी सफलता की कहानी
Image
संसार के चिरंजीवी महापुरुषों में एक नाम परशुराम –कवि तारकेश्वर मिश्र जिज्ञासु
Image