लोक निर्माण विभाग के एक्स ई एन को जेई संघ ने बंधक बनाया

बस्ती ,उत्तरप्रदेश लोक निर्माण विभाग से एक सनसनीखेज मामला सामने आया है, जहां जेई संघ के लोगों ने अपने ही एक्स ई एन ए के गुप्ता पर गम्भीर आरोप लगाया है। लोक निर्माण विभाग में एक्स ई एन को घण्टों तक बंधक बनाए रखा। सूचना के बाद मौके पर पहुंची कोतवाली पुलिस ने बातचीत कर मामले को शांत कराया। 


जेई संघ के पदाधिकारियों ने आरोप लगाया कि हार्ट अटैक आने से पहले मृतक जेई हरीश वर्मा ने अपने अधिकारी ए के गुप्ता से मिलने पहुंचे थे कि तभी बातचीत के दौरान उनको हार्ट अटैक आ गया। इस बात की सूचना जब परिजनों को मिली तब परिजन हरीश वर्मा को लेकर लखनऊ पहुंचे, जहां इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई। इसके साथ ही जेई की मौत के बाद जेई संघ के लोग नाराजगी जताते हुए एक्स ई एन को भला बुरा कहते हुए बंधक बनाया और एक्स ई एन के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने व सस्पेंड करने की मांग करने लगे।
वहीं, मीडिया से बात करते हुऐ जेई संघ के लोगों ने बताया कि जेई पर काम का अतिरिक्त दबाव बनाने की जानकारी है। हम सभी ने 6 माह पहले ही लिखित तौर पर शासन को अवगत करा दिया था। इनके द्वारा सारा काम जेई से कराया जाता था, जब कि जेई का काम फील्ड का है। इस पर एतराज के बाद एक्स ई एन के द्वारा 8 जेई के खिलाफ मिड सेशन में ट्रांसफर के लिए पत्र भी लिखा गया, और हमारे साथी ट्रांसफर न करने की सिफारिश करने पहुंचे थे। उसके बाद ही उनको हार्ट अटैक आया। लखनऊ में इलाज के दौरान जेई हरीश वर्मा की मौत हो गयी।
लोक निर्माण विभाग के एक्स ई एन ए के गुप्ता ने मीडिया से बात करते हुए सफाई दी। कहा कि जो भी आरोप लग रहे हैं सब निराधार हैं। हमारे द्वारा किसी का मानसिक उत्पीड़न नही किया गया, जो भी स्थानांतरण किया गया है। वो प्रशासनिक आधार पर किया गया है। वो खुद मानसिक तौर पर परेशान है और उनकी मानसिक स्थिति ठीक नहीं है।


Popular posts
राजा लक्ष्मेश्वर सिंह की 67 वी जयंती पर राजभवन बस्ती में हुए विभिन्न कार्यक्रमो ने लोगो का मन मोहा, हुआ पुस्तक विमोचन
Image
बस्ती के नए पुलिस अधीक्षक बने गोपाल कृष्ण चौधरी, 2016बैच के है आईपीएस अधिकारी,
Image
परशुरामाचार्य पीठाधीश्वर स्वामी श्री सुदर्शन महाराज द्वारा सम्मानित हुए —कवि डॉ० तारकेश्वर मिश्र जिज्ञासु
Image
बस्ती:-सौम्याअग्रवाल आईएएस,बस्ती की नई जिलाधिकारी बनी, जानिए उनकी सफलता की कहानी
Image
संसार के चिरंजीवी महापुरुषों में एक नाम परशुराम –कवि तारकेश्वर मिश्र जिज्ञासु
Image