अभिभावकों के आर्थिक हालातो को देखते हुए विद्यालय प्रबन्धक कमजोर अभिभावकों की मदद करे-महेश शुक्ल


बस्ती । निजी विद्यालयों में लाकडाउन अवधि की फीस को लेकर प्रबंन्धकों एवं अभिभावकों के बीच चल रही जंग के बीच भारतीय जनता पार्टी के जिला अध्यक्ष महेश शुक्ल ने कहा कि अभिभावकों के आर्थिक हालातो को देखते हुए प्रबंधको को विशाल हृदय का परिचय देना चाहिए ।


उन्होने अभिभावको के खस्ताहाल आर्थिक हालात पर चिन्ता जताते हुए कहा कि ऐसे समय में निजी विद्यालयों के प्रबंन्धको को चाहिए कि वह खुद आगे आकर आर्थिक रूप से विपन्न अभिभावको की खुलकर मदद करे । विद्याालय प्रबंधक अपने विद्याालय में अध्यनरत छात्रों के अर्थिक रूप से कमजोर हुए अभिभावको को चिन्हित कर उनकी मदद करें । 


भाजपा जिलाध्यक्ष महेश शुक्ल एवं रूधौली विधायक संजय प्रताप जासवाल के अभिभावकों का पक्ष लेने से प्रबंधको की मदद में खुलकर सामने आये सदर विधायक दयाराम चैाधरी अपने ही पार्टी में अलग -थलग पड़ गये है इनकी भूमिका को लेकर अभिभावको में तो गुस्सा था ही खुद के ही दल में यह सवालिया हो गये है । यही नही भाजपा में भी तमाम नेता एवं पदाधिकारी दबी जुबान से सदर विधायक के इस फैसले की कड़ी आलोचना कर रहे है हलाकि दलीय निष्ठा के चलते वे खुलकर विरोध करने से परहेज कर रहे है ।


वही दुसरी तरफ प्रबन्धक एशोसियेसन एवं सिटी मान्टेसरी स्कूल के प्रबंधक अनूप खरें कहते है कि हम सरकार के निर्देश के अनुपालन में आनलाइन क्लासेज चला रहे है और सरकारी दिशा निर्देश के तहत ही अभिभावको से फीस लेने के लिए प्रतिबध्द्ध है । विद्याालयों के खुद अपने खर्चे है इस लिये फीस में बिना सरकारी निर्देश के कोई रियायत सम्भव नही है ।


Popular posts
सेंट एंथोनी कॉन्वेंट स्कूल डेयरी कॉलोनी गोरखपुर में महात्मा गांधी एवं लाल बहादुर शास्त्री जी के जन्मदिन पर गीत संगीत और नृत्य का हुआ आयोजन
Image
बस्ती:-सौम्याअग्रवाल आईएएस,बस्ती की नई जिलाधिकारी बनी, जानिए उनकी सफलता की कहानी
Image
ईमानदारी का मिसाल बना ऑटो चालक यूसुफ ने अपनी सवारी का रुपये से भरा पर्स पाने पर पुलिस को लौटाया
Image
बस्ती के नए सीडीओ राजेश कुमार प्रजापति,
Image
प्रतिकार फिल्म चौरी चौरा 1922 में सांसद रवि किशन की दमदार भूमिका,, सीन देख कर दर्शकों की विभिन्न प्रतिक्रिया
Image