पिता ने तीन बेटियों को जिंदा घाघरा नदी में फेंका,घटना का कारण स्पस्ट नहीं, संत कबीर नगर का मामला


संतकबीरनगर , यहां दीपपुर गांव के एक युवक ने रविवार की रात दोस्त के साथ मिलकर अपनी तीन बेटियों को जिंदा घाघरा नदी में फेंक दिया। उसके बाद अपने कपड़े फाड़ कर ब्लेड से शरीर पर चोट के निशान बनाकर तीनों बेटियों के अपहरण की सूचना फैला दी।


सूचना पर पहुंची पुलिस की जांच पड़ताल पर मामले का खुलासा हुआ। पुलिस ने युवक और उसके दोस्त को हिरासत में लिया है। एएसपी असित श्रीवास्तव ने बताया कि डिहवा निवासी सरफराज (30) बीस दिन पूर्व मुंबई से लौटा था।


रविवार की रात अपने एक दोस्त के साथ अपनी सात साल, पांच साल और ढाई साल की तीनों बेटियों को बाइक से लेकर बिडहर घाट पुल पर गया। पुल से ही तीनों बेटियों को जिंदा घाघरा नदी में फेंक दिया।


उसके बाद घर पहुंचकर ब्लेड से शरीर पर चोट के निशान बनाकर और कपड़े फाड़ कर अपनी तीनों बेटियों के अपहरण की सूचना फैला दिया। सूचना पर पुलिस भी मौके पर पहुंच गई और जांच पड़ताल की तो घटना की यही कहानी सामने आई है।


आरोपी पिता और उसके दोस्त को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। आरोपी पिता ने ऐसी घटना क्यों किया अभी स्पष्ट नहीं हो पाया है। तीनों मासूम बहनों का शव पुलिस गोताखोरों की मदद से घाघरा में ढूढ़वा रही है।


Popular posts
खलीलाबाद से बहराइच तक रेल लाइन बिछेगी, डीपीआर रेलवे बोर्ड को प्रेषित
Image
दिल्ली:- 12 साल के लड़के ने 18 साल की लड़की को किया गर्भवती, अस्पताल में बच्चे को जन्म देकर लड़की ने किया खुलासा
Image
नेहरू युवा केंद्र द्वारा ब्लॉक स्तरीय खेल प्रतियोगिता का हुआ आयोजन
Image
बस्ती रियासत के पूर्व राजा एवं पूर्व विधायक राजा लक्ष्मेश्वर सिंह की पुण्य तिथि पर श्रद्धांजलि सभा का हुआ आयोजन, उनके चित्र पर पुष्प अर्पित पर हवन कर उन्हें श्रद्धांजलि दी
Image
करनपुर गांव में अपर मुख्य सचिव अमित मोहन, मुख्य विकास अधिकारी सरनीत कौर ब्रोका, हर्र्रैया के उप जिलाधिकारी प्रेम प्रकाश मीणा आदि ने पौधरोपण किया
Image