बोर्ड परीक्षा की कापियों का मूल्यांकन 12 मई से शुरू होगा,तिथिवार कापियों के मूल्यांकन के लिए विषय निर्धारित


बस्ती । उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद की तरफ से संचालित बोर्ड परीक्षा की कापियों का मूल्यांकन 12 मई से शुरू होगा। बोर्ड ने तिथिवार कापियों के मूल्यांकन के लिए विषय का निर्धारण कर दिया गया है। बस्ती में चार कॉलेजों को मूल्यांकन केंद्र बनाया गया है। डीआईओएस की अध्यक्षता में चारों केंद्रों के मूल्यांकन प्रभारियों की बैठक हुई। सोशल डिस्टेंस के साथ ही कापियों के मूल्यांकन की योजना बनी। कापियों की जांच सुबह साढ़े नौ बजे से शाम पांच बजे तक होगी। 


डीआईओएस डॉ. बृजभूषण मौर्य ने बताया कि दो केंद्र जीआरएस इंटर कॉलेज व श्रीकृष्ण इंटर कालेज में हाईस्कूल की कापियों का मूल्यांकन केंद्र है। 12 मई को जीआरएस इंटर कालेज में हाईस्कूल हिन्दी, प्रारंभिक हिन्दी व संगीत विषय तथा श्रीकृष्ण पांडेय इंटर कॉलेज केंद्र पर संस्कृत, ऊर्दू व अंग्रजी विषय की कापी का मूल्यांकन होगा। इंटरमीडिएट के लिए दो केंद्र बने हैं। 12 मई को जीआईसी केंद्र पर हिन्दी व अंग्रेजी व जीजीआईसी केंद्र पर सामान्य हिन्दी, सैन्य विज्ञान व संस्कृत की कापियों का मूल्यांकन होगा।


9.30 बजे से शाम पांच बजे तक होगा मूल्यांकन
जीआईसी में हुई केंद्र मूल्यांकन प्रभारियों की बैठक में बताया गया कि 12 मई से शुरू होने वाला मूल्यांकन कार्य सुबह 9.30 बजे से शाम पांच बजे तक होगा। कोरोना से बचाव के लिए मूल्यांकन के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग और सफाई का विशेष ध्यान दिया जाएगा। सभी परीक्षक मास्क, हैंड ग्लब्स, सेनेटाइजर का प्रयोग करते दो मीटर की दूरी पर ही मूल्यांकन करेंगे। चारो मूल्यांकन केन्द्र प्रतिदिन सेनिटाइज होंगे। जीआईसी प्रधानाचार्य शिवबहादुर सिंह, पांडेय इंटर कालेज प्रधानाचार्य योगेश शुक्ल, जीआरएस प्रधानाचार्य ओमप्रकाश श्रीवास्तव, जीजीआईसी प्रधानाचार्या नीलम सिंह, मलका परवीन, मनीष श्रीवास्तव आदि मौजूद रहे। 


पास के तौर पर मान्य होगा परीक्षक का नियुक्त पत्र 
डीएम आशुतोष निरंजन ने उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद की तरफ से जारी परीक्षक नियुक्त पत्र को ही वाहन पास के तौर पर मान्य किया है। उप प्रधान परीक्षक व सहायक परीक्षक अपने नियुक्ति पत्र को साथ लेकर आवें। उस पर उनका नाम, विद्यालय का नाम, विषय व अन्य सभी विवरण दर्ज है।