जमात और दंगो को लेकर दिल्ली पुलिस की भूमिका ठीक नहीं थी:-सुप्रिया सुले नेता एनसीपी


मुंबई। राकांपा सांसद सुप्रिया सुले ने पिछले महीने दिल्ली में तबलीगी जमात के धार्मिक कार्यक्रम की अनुमति देने के दिल्ली पुलिस के फैसले और फरवरी में हुए दंगों को रोकने में उसकी नाकामी पर मंगलवार को सवाल उठाए। तबलीगी जमात के कार्यक्रम में शामिल हुए कई लोग कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं। बारामती से सांसद सुले ने फेसबुक के जरिये बातचीत के दौरान कहा, मेरे जेहन में दो सवाल हैं, इसमें किसी तरह की राजनीति नहीं छिपी हुई है...मैं ये सवाल एक नागरिक की हैसियत से पूछना चाहती हूं। 


राकांपा नेता ने कहा, दिल्ली में (फरवरी में) उस समय दंगे भड़के जब (अमेरिकी) राष्ट्रपति ट्रंप भारत यात्रा पर आए हुए थे। उस समय वहां के पुलिस आयुक्त क्या कर रहे थे? उन्होंने पूछा, इसके आठ या दस दिन बाद दिल्ली में (तबलीगी जमात का) कार्यक्रम हुआ। उन्हीं आयुक्त ने इसकी अनुमति दी। प्रशासन का ध्यान कहां था? प्रशासन ने 10 दिन के भीतर यह सबकुछ कैसे होने दिया। सुले ने पूछा, उस समय दिल्ली का प्रशासन क्या कर रहा था? वहीं, एक फेसबुक उपयोगकर्ता ने जब सुले से पुणे के कोंढवा और सैयद नगर इलाकों को सील करने की मांग की तो उन्होंने कहा कि स्थानीय अधिकारी इन मुद्दों पर काम कर रहे हैं। गौरतलब है कि इन इलाकों में कई लोग जमात के कार्यक्रम से होकर लौटे हैं।


Popular posts
बस्ती की नई डीएम प्रियंका निरंजन,2013 बैच की आईएएस अफसर है प्रियंका निरंजन।
Image
पापमोचिनी एकादशी व्रत रखना बहुत पुण्य कारक है आप भी रहे ब्रत
Image
बस्ती रियासत के पूर्व राजा एवं पूर्व विधायक राजा लक्ष्मेश्वर सिंह की पुण्य तिथि पर श्रद्धांजलि सभा का हुआ आयोजन, उनके चित्र पर पुष्प अर्पित पर हवन कर उन्हें श्रद्धांजलि दी
Image
सत्य को जानने का सर्वाधिक सरल मार्ग है सहज योग, जिसके माध्यम से जीवन सुखमय और आनंदमय हो जाता है :-डॉ ए के चौहान
Image
पूर्व विधायक राणा कृष्ण किंकर सिंह की मोटरसाइकिल को चोरी करके फूकने वाला गिरफ्तार,अभियुक्त के पास गाजा,असलहा भी बरामद
Image