बस्ती महोत्सव 2 को भव्य बनाने के लिए प्रशासन ने किया बैठक,कई नए आयोजन,स्थानीय कलाकारों को भी मौका,


बस्ती । बस्ती महोत्सव को दिव्य, भव्य एवं एतिहासिक बनाने के लिए जिला प्रशासन ने कमर कस लिया है। इस बार बस्ती महोत्सव में बाहरी कलाकारों के साथ स्थानीय कलाकारों को भी मौका दिया जायेगा। महोत्सव 03 से 05 दिन का होगा। इसके कार्यक्रमों में अध्यात्मिक, सांस्कृतिक आयाम होंगे। स्कूल, कालेज के छात्र-छात्राओं स्थानीय कलाकारों को मंच मिलेगा।


जिलाधिकारी/अध्यक्ष बस्ती महोत्सव समिति आशुतोष निरंजन की अध्यक्षता में तीन दिवसीय महोत्वस के कार्यक्रम की रूपरेखा पर चर्चा की गयी है। महोत्सव में देश भक्ति से ओत-प्रोत कार्यक्रम संयोजित किए जायेंगे। 30 जनवरी को शहीद दिवस के अवसर पर गाॅधी जी के जीवन पर आधारित मोहन दास से महात्मा तक एक घण्टे का नाटक शामिल किया गया है। इसमें बस्ती में छावनी में फासी देने की घटना को भी दर्शाया जायेगा।
महोत्सव में बस्ती की माटी से उपजे बालीबुड मे पहचान बनाने वाले कलाकारों के साथ-साथ राहत इन्दौरी, कुमार विश्वास जैसे कविओं को भी सुनने का मौका मिलेगा। एक रात भोजपुरी नाइट का आयोजन भी किया जायेगा।
बस्ती महोत्सव का थीम सांग पिछले वर्ष वाला ही रखा जायेगा परन्तु इसमें पिछले एक साल में जिले की उपलब्धि वशिष्ट मुनि मेडिकल कालेज, मुण्डेरवा चीनी मिल को भी दर्शाया जायेगा।
बस्ती महोत्सव आयोजन के लिए गठित विभिन्न समितियों में स्थानीय मानिन्द लोगों को शामिल किया जायेगा तथा उनके सुझाव को शामिल किया जायेगा। आयोजन समिति एक स्मारिका का प्रकाशन भी करेगी।
बस्ती महोत्सव के लिए प्राप्त धन सीधे यूनियन बैंक, विकास भवन के खाते में लिया जायेगा तथा धन देने वालों को समुचित रसीद दी जायेगी। धन का समुचित रख-रखाव किया जायेगा तथा रजिस्टर मेन्टेन किया जायेगा। इसके लिए वरिष्ठ कोषाधिकारी श्रीनिवास त्रिपाठी को जिम्मेदारी सौपी गयी है।
महोत्सव में बस्ती में पैदा हुए, पढे-लिखे ऐसे लोगों को सम्मानित करने की योजना भी है, जिन्होने किसी क्षेत्र में ऊचा मुकाम हासिल किया है। इसके चयन के लिए एडीएम की अध्यक्षता में एक समिति भी गठित की गयी है जो ऐसे लोगों की जानकारी एवं बायोडाटा एकत्र करेगी। शीघ्र ही बस्ती महोत्सव का वेबसाइट भी जारी किया जायेगा। ट्विटर एवं फेसबुक पर महोत्सव की जानकारी शेयर की जायेगी।
बस्ती महोत्सव में स्थानीय कलाकारों के साथ-साथ लोग अधिकारियो/कर्मचारियों की संगीतमयी प्रस्तुति भी देख सकेगे। जिलाधिकारी ने सुझाव दिया है कि पिछले 04, 05 वर्ष में नौकरी में आये युवाओं के टैलेण्ट को चिन्हित करें। उन्हें मंच उपलब्ध कराया जायेगा। इसके प्रभारी पीटीओं शैलेन्द्र त्रिपाठी बनाये गये है।
बैठक में मोक्ष संस्था ने पावर प्वाइंट प्रजन्टेशन प्रस्तुत किया। इसमें मंच संज्जा, पाण्डाल, विभागीय प्रदर्शनी, झूले एंव मेला का अन्य आकर्षक, लेजर शो, सैड कलाकारी आदि शामिल है। कार्यक्रम स्थल इस वर्ष भी गाॅधी नगर स्थित राजकीय इण्टर कालेज को चुना गया है। यहाॅ साफ-सफाई, पेयजल, पार्किंग, शौचालय, यूरिनल आदि की व्यवस्था के बारे में चर्चा की गयी।
बस्ती महोत्सव में बस्ती के मूल निवासी देश-विदेश में सेवारत लोगों को जोड़ने के बारे में जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन बेहद उत्सुक है। उनका कहना है कि बस्ती महोत्सव को यदि बस्ती के लोग ही सजाये-सवारे तो ज्यादा अच्छा होगा।
बैठक में सीडीओ अरविन्द पाण्डेय, एडीएम रमेश चन्द्र, डीएफओ नवीन कुमार, सीआरओ चन्द्र प्रकाश, सीएमओ डाॅ0 एके गुप्ता, डिप्टी आरएमओ गोरखनाथ तिवारी, प्रधानाचार्य शिव बहादुर सिंह, अधिशाषी अभियन्ता एके गुप्ता, संतोष कुमार, एसडीएम सदर श्रीप्रकाश शुक्ला, सीओ गिरिजेश सिंह, कमल सेन, एआरटीओ अरूण चैबे, शैलेन्द्र त्रिपाठी, खादी ग्रामोद्योग अधिकारी एके सिंह, उदय प्रताप आदि उपस्थित रहे।


Popular posts
राजा लक्ष्मेश्वर सिंह की 67 वी जयंती पर राजभवन बस्ती में हुए विभिन्न कार्यक्रमो ने लोगो का मन मोहा, हुआ पुस्तक विमोचन
Image
बस्ती के नए पुलिस अधीक्षक बने गोपाल कृष्ण चौधरी, 2016बैच के है आईपीएस अधिकारी,
Image
परशुरामाचार्य पीठाधीश्वर स्वामी श्री सुदर्शन महाराज द्वारा सम्मानित हुए —कवि डॉ० तारकेश्वर मिश्र जिज्ञासु
Image
बस्ती:-सौम्याअग्रवाल आईएएस,बस्ती की नई जिलाधिकारी बनी, जानिए उनकी सफलता की कहानी
Image
संसार के चिरंजीवी महापुरुषों में एक नाम परशुराम –कवि तारकेश्वर मिश्र जिज्ञासु
Image