यू पी सरकार असली अनामिका शुक्ला से माफी मांगे,मुआवजा दे तथा नौकरी भी प्रदान करे:प्रियंका गांधी


उत्‍तर प्रदेश में 25 जिलों में एक साथ नौकरी करने के मामले में सुर्खियों में आई अनामिका और कई नाम वाली युवती के मामले में मंगलवार को बड़ा खुलासा हुआ है। जिसकी डिग्री पर 25 लड़कियां नौकरी कर रही हैं वह अनामिका शुक्ला कोई नौकरी नहीं करती है। गोंडा बीएसए डॉ. इन्द्रजीत प्रजापति के समक्ष पेश होकर मंगलवार को असली अनामिका शुक्ला ने पेश होकर इस बात का शपथ पत्र दिया है।


इस केस पर कांग्रेस की महासचिव व यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी ने कहा है कि यूपी सरकार को अनामिका शुक्ला के घर जाकर माफी मांगनी चाहिए और उन्हें मानहानि का मुआवजा दिया जाना चाहिए। प्रियंका गांधी ने अनामिका के लिए सरकारी नौकरी की मांग करते हुए कहा कि यूपी सरकार उनके परिवार को सुरक्षा भी दे। अनामिका शुक्ला को पता भी नहीं था उसके नाम पर ये चल रहा है। यूपी सरकार और उनके शिक्षा विभाग की नाक के नीचे चल रही लूट की व्यवस्था ने एक साधारण महिला को अपना शिकार बनाया। ये चौपट राज की हद है। उन्होंने अनामिका शुक्ला को न्याय देने की मांग की है।


 रिपोर्ट शासन को भेजी


अनामिका का कहना है कि उसने नौकरी के लिए 2017 में आवेदन जरूर किया था पर व्यक्तिगत परेशानी के कारण उसने कहीं नौकरी नहीं की। बीएसए के सामने अनामिका ने कहा कि इस मामले में पकड़ी गई युवती ने उसके शैक्षिक अभिलेखों का गलत इस्तेमाल किया और अलग-अलग जगहों पर नौकरी हासिल कर ली। इस चौंकाने वाले खुलासे के बाद पूरी रिपोर्ट शासन को भेज दी गईहै।


शैक्षिक अभिलेखों का फर्जी ढंग से इस्तेमाल


अंबेडकरनगर के जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी डॉ. इन्द्रजीत प्रजापति ने बताया, अनामिका ने शपथ है कि उसके शैक्षिक अभिलेखों का फर्जी ढंग से इस्तेमाल किया गया। उसने शपथ पत्र में लिखा है कि मीडिया में मामला देखा तो मंगलवार को सच्चाई अवगत कराने के लिए यहां आई।


रैकेट की आशंका


अनामिका शुक्ला ने आशंका जताई है कि इसके पीछे एक बड़ा रैकेट हो सकता है। बीएसए ने कहा कि अनामिका शुक्ला ने अपने शैक्षिक अभिलेखों का दुरुपयोग किए जाने व खुद अभी तक कोई सरकारी नौकरी नहीं करने का शपथ पत्र दिया है। विभाग के उच्चाधिकारियों को इससे अवगत करा दिया गया है।


केस दर्ज करने की तहरीर दी


शैक्षिक अभिलेख का फर्जी दुरुपयोग कर नौकरी हथियाने वालों पर केस चलाने के लिए अनामिका ने गोण्डा नगर कोतवाली में तहरीर भी दी। कोतवाल ने बताया कि अधिकारियों के निर्देश के बाद रिपोर्ट दर्ज कर कर्रवाई की जाएगी।